उद्भव उत्सव के चार दिवसीय अंतरराष्ट्रीय नृत्य एवं संगीत समारोह का हुआ सतरंगी आगाज

नृत्य करते कलाकारों की झलक, राह चलते लोगों ने निहारी अपलक

27 दलों के 810 कलाकारों ने भव्य कॉर्निवाल में ब्लास्टर म्यूजिक पर दी अपनी रंगारंग प्रस्तुति* 

 *ग्वालियर* । सतरंगी पारंपरिक परिधानों में सजे-धजे कलाकार, तेज चाल, धमाकेदार गीत-संगीत के साथ असाधारण नृत्य और बेजोड़ उत्साह का मिश्रण.... ऐसे ही जोश भरे अंदाज में सामूहिक रूप से निकल रहे देशी-विदेश के कलाकारों की एक झलक के लिए राह चलते लोग उन्हें अपलक निहारते रहे। पारंपरिक नृत्य और संगीत से सजा समृद्ध सांस्कृतिक नजारा देखने को मिला गुरुवार को शहर में निकाले गए कॉर्निवाल में।
उद्भव कल्चरल एंड स्पोर्ट्स एसोसिएशन के तत्वावधान में  सिंधिया कन्या विद्यालय एवं ग्रीनवुड पब्लिक स्कूल के सहायोग से आयोजित किए जा रहे 18वें चार दिवसीय अंतरराष्ट्रीय नृत्य एवं संगीत समारोह “उद्भव उत्सव 2023“के शुभारंभ से पूर्व मोती पैलेस से यह कॉर्निवाल निकाला गया। कॉर्निवाल में किर्गिजस्तान, श्रीलंका, एस्टोनिया, मैसेडोनिया और मलेशिया सहित देश के विभिन्न प्रांतों से आएं दलों ने अपनी भागीदारी निभाई। इस दौरान किर्गिजस्तान के राजदूत ने प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया।
प्रस्तुतियों ने मोहा मन 
कॉर्निवाल में चल रहे सभी दलों के कलाकारों ने एलआईसी तिराहे पर अपने-अपने देश और प्रदेश की कला और संस्कृति को प्रदर्शित करने वाले गीत और संगीत पर नृत्य प्रस्तुत किया। एक से बढ़कर एक प्रस्तुतियों ने लोगों का मन मोह लिया। एस्टोनिया के कलाकारों की प्रस्तुति रोमांचित करने वाली रही तो डीपीएस गुड़गाव और गंधर्व एकेडमी इंदौर के कलाकारों का अंदाज भी खास रहा। कॉर्निवाल मोती पैलेस से शुरू होकर बैजाताल और मोती महल से गुजरकर कार्यक्रम स्थल सिंधिया कन्या विद्यालय में पहुंचकर समाप्त हुआ।