BREAKING!
  • वीरेन्द्र कुमार श्रम विभाग के उपसचिव बने
  • महापौर ने किया वार्ड 60 के सिंधिया नगर में निरीक्षण, अधिकारियों को दिए समस्या निराकरण के निर्देश
  • ग्वालियर स्टार्टअप मीट 2022 से शहर के युवाओं को मिला अंतरर्राष्ट्रीय प्लेटफार्म: महापौर
  • सौ अश्वमेघ यज्ञ से भी नहीं हटेगा कन्याभ्रूण हत्या का पाप: समीक्षा गुप्ता
  • अकेले पड़े मुन्नालाल डिफेंस मोड में, महापौर के पैलेस पर धरने की बात सिंधिया तक पहुंची
  • ग्वालियर पुलिस ने सेवानिवृत्त हुए पुलिस अधिकारी व कर्मियों को दी विदाई
  • महाराजा अग्रसेन मेला 1 अक्टूबर से, सजेगा विशाल दरबार
  • मासिक दिव्यांग मिलन बैठक का आयोजन किया
  • कैट का दीपावली मिलन समारोह 1 नवम्बर को
  • अग्रसेन जयंती के अवसर पर निकले चल समारोह का पुष्प वर्षा से स्वागत किया

Sandhyadesh

ताका-झांकी

विशेषः आप नाराज भाजपा व कांग्रेस नेताओं पर दांव खेलेगी

22-Sep-22 126
Sandhyadesh

(विनय अग्रवाल)
ग्वालियर / भोपाल। 2023 के चुनावों को लेकर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा से लेकर कांग्रेस सहित अन्य छोटी - मोटी पार्टियां अब अपने गुणाभाग फैलाने में लग गई हैं, लेकिन वहीं दिल्ली और पंजाब में सत्तारूढ़ आम आदमी पार्टी (आप) की निगाह भी मध्यप्रदेश में हैं। इसके लिए आप मध्यप्रदेश में भाजपा व कांग्रेस के नेताओं से संपर्क बढ़ा रही हैं, ताकि टिकट वितरण में दोनों पार्टियों में नाराजगी बढ़ने पर इनके बड़े नेताओं को आप से उतारा जा सकें।
गौरतलब बात यह है कि इस समय पूरे प्रदेश में आप के वरिष्ठ नेताओं ने अपने दौरे बढ़ा दिये हैं। वहीं सिंगरौली में मेयर सहित अन्य जिलों में कुछ पार्षद जिताने के बाद आप के नेता अति उत्साहित हैं। इसी कारण उन्होंने आप आलाकमान को यह एडवाइज दी है कि मध्यप्रदेश में जीत का गणित बेहद आसान है। इसी कारण आम आदमी पार्टी अपने सुप्रीमो व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पूरे प्रदेश में रोड शो की प्लानिंग करने में लगी है। हालांकि अभी इस बारे में आप के नेता कुछ भी बोलने से बच रहे है, लेकिन इतना तय है कि आप भाजपा और कांग्रेस दोनों के बागी नेताओं को अपनी छत्रछाया देगी। 
वैसे आप के नेताओं को सपना मध्यप्रदेश में लगातार कमजोर होती बसपा सहित सपा व अन्य क्षेत्रीय पार्टियों के वोट बैंक पर भी अपनी दावेदारी करना है। आप के नेताओं ने अपने सुप्रीमो सहित दिल्ली में बैठे पार्टी संचालकों को यह सलाह भी दी है कि जिस प्रकार नगरीय निकाय चुनावों में आप प्रत्याशियों ने अपनी दमदारी दिखाई है, वैसे ही विधानसभा चुनावों में पूरी रणनीति से चुनाव लड़े जाये, तो हम निर्णायक स्थिति में होंगे।
सूत्रों का कहना है कि आप के सर्वे दल ने मध्यप्रदेश की उन सीटों की भी समीक्षा शुरू की है, जहां भाजपा व कांग्रेस ने मामूली अंतर से जीत हासिल की थी। इसके साथ ही भाजपा व कांग्रेस के उन विधायकों वाली सीट पर भी उनकी निगाह हैं, जहां विधायक एक्टिव नहीं है। वैसे आप के सूत्र बताते है कि आम आदमी पार्टी 2023 के विधानसभा चुनावों में 230 पर ही अपने उम्मीदवार खड़े कर सकती हैं। इसके लिए पार्टी की जिला से लेकर  प्रदेश इकाई तक एक्टिव कर दी गई हैं। स्वयं आप के पदाधिकारी भी अब मीडिया से लेकर सामाजिक संगठनों तक अपने संबंध विकसित कर रहे है और छोटी - मोटी समस्याओं के लिये भी हल्ला बोल करने लगे हैं।

इनका कहना हैं -
"आप मध्यप्रदेश में प्रत्येक जिले व ब्लाक स्तर तक एक्टिव है, हम 2023 के विधानसभा चुनावों को भी लेकर फोकस कर रहे है। पहले हम संगठन को और मजबूत व बेहतर कर रहे हैं।"

सुशील गुप्ता
राज्यसभा सांसद 
आम आदमी पार्टी 

Popular Posts