BREAKING!
  • वीरेन्द्र कुमार श्रम विभाग के उपसचिव बने
  • महापौर ने किया वार्ड 60 के सिंधिया नगर में निरीक्षण, अधिकारियों को दिए समस्या निराकरण के निर्देश
  • ग्वालियर स्टार्टअप मीट 2022 से शहर के युवाओं को मिला अंतरर्राष्ट्रीय प्लेटफार्म: महापौर
  • सौ अश्वमेघ यज्ञ से भी नहीं हटेगा कन्याभ्रूण हत्या का पाप: समीक्षा गुप्ता
  • अकेले पड़े मुन्नालाल डिफेंस मोड में, महापौर के पैलेस पर धरने की बात सिंधिया तक पहुंची
  • ग्वालियर पुलिस ने सेवानिवृत्त हुए पुलिस अधिकारी व कर्मियों को दी विदाई
  • महाराजा अग्रसेन मेला 1 अक्टूबर से, सजेगा विशाल दरबार
  • मासिक दिव्यांग मिलन बैठक का आयोजन किया
  • कैट का दीपावली मिलन समारोह 1 नवम्बर को
  • अग्रसेन जयंती के अवसर पर निकले चल समारोह का पुष्प वर्षा से स्वागत किया

Sandhyadesh

ताका-झांकी

राष्ट्र सेवा के विभिन्न क्षेत्रों में बेटियाँ भी अग्रणी: सांसद शेजवलकर

22-Sep-22 22
Sandhyadesh

ग्वालियर।  शिक्षा व स्वास्थ्य सहित राष्ट्र सेवा के विभिन्न क्षेत्रों में बेटियाँ भी अग्रणी भूमिका निभा रही हैं। इसलिए महिलाएँ अपने मन से यह बात निकाल दें कि बेटियाँ बेटों से कमतर हैं। इस आशय के विचार सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने “मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान” के तहत आयोजित हुए लाड़ली लक्ष्मियों एवं उनके अभिभावकों के जिला स्तरीय सम्मेलन में व्यक्त किए। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिला अध्यक्ष कमल माखीजानी ने की।
गुरूवार को यहाँ बाल भवन में लाड़ली लक्ष्मियों के जिला स्तरीय सम्मेलन का आयोजन हुआ। शिक्षा, साहित्य, कला, नृत्य एवं खेलकूद इत्यादि गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वालीं जिले की दो दर्जन लाड़ली लक्ष्मियों को इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद शेजवलकर ने सम्मानित किया। साथ ही हाल ही में लाड़ली लक्ष्मी बनी पाँच नई बालिकाओं के माता-पिता को एक लाख 18 – 18 हजार रूपए के प्रमाण-पत्र प्रदान किए गए। हाल ही में माँ तुझे प्रणाम योजना के तहत भारत – पाक सीमा पर स्थित बाघा बॉर्डर की यात्रा करके आईं लाड़ली लक्ष्मी बालिकाओं ने अपने अनुभव साझा किए। एक और दो बालिकाओं पर परिवार नियोजन अपनाकर समाज को महिला सशक्तिकरण का संदेश देने वाले माता-पिताओं को भी कार्यक्रम में सम्मानित किया गया। 
सांसद शेजवलकर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि बेटा-बेटी एक समान हैं। राष्ट्र के समग्र विकास के लिये दोनों का सशक्तिकरण जरूरी है। बेटियों के सशक्तिकरण से ही देश का भविष्य उज्ज्वल होगा। कार्यक्रम में श्रीमती नीलिमा शिंदे सहित अन्य महिला जनप्रतिनिधिगण तथा जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला-बाल विकास राहुल पाठक सहित विभाग के अन्य अधिकारी-कर्मचारी और बड़ी संख्या में लाड़ली लक्ष्मी व उनके माता-पिता मौजूद थे। 

बेटियों के सशक्तिकरण के लिये दिलाई गई शपथ 
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने इस अवसर पर कार्यक्रम में मौजूद सभी प्रतिभागियों को बेटियों की स्कूली पढ़ाई को पूर्ण कराने, बेटियों को उनकी इच्छा अनुसार पढ़ने देने, बाल विवाह न करने और बेटियों के लिये सुरक्षित व स्वस्थ माहौल बनाने के लिये निरंतर प्रयास करने की शपथ भी दिलाई। 

Popular Posts