BREAKING!
  • दो अप्रैल २०१८ हिंसा के मामले वापस लिये जायें
  • मप्र डिप्लोमा इंजीनियर्स ने मुख्यमंत्री को पदोन्नति को लेकर ज्ञापन सौंपा
  • ट्रक ड्राइवर के लिए निशुल्क नेत्र परीक्षण शिविर, टोल और नाकों पर चलाया जागरूकता अभियान
  • केन्द्रीय मंत्री तोमर एवं प्रभारी मंत्री सिलावट ने अभय चौधरी के निवास पर पहुँचकर शोक संवेदनाएँ व्यक्त कीं
  • हमारा संकल्प है कि कोई भी गरीब मरीज धन के अभाव में इलाज से वंचित न रहे – मुख्यमंत्री चौहान
  • संगठित होकर ही कर सकते हैं एक दूसरे की मदद : श्याम श्रीवास्तव
  • राजनगर तहसील के अंतर्गत ग्राम चोबर के खला मे सिद्ध बाबा के पुण्य स्थान पर हुए यज्ञ मे सम्पूर्ण भारत वर्ष एवं विदेशी श्रद्धालुओं ने दी पूर्ण आहुति
  • रोटरी फाउंडेशन में दान करे : सुधीर त्रिपाठी
  • कमलनाथ और कांग्रेस भाजपा के लिये चुनौती नहीं : कैलाश विजयवर्गीय
  • कैलाश ग्वालियर आये , पूरन भदौरिया की पत्नी को देखने अपोलो पहुंचे

कांग्रेस ने पिछडा वर्ग को २७ प्रतिशत टिकट दिये जाने की कमलनाथ की घोषणा का स्वागत किया

13-May-22 37
Sandhyadesh


ग्वालियर। शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष सहित अन्य नेताओं ने ओबीसी वर्ग को निकाय चुनावों में २७ प्रतिशत टिकट दिये जाने की घोषणा करने पर मध्यप्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की घोषणा पर उनका आभार जताया है। उन्होंने आरोप लगाया कि ओबीसी आरक्षण को खत्म करने का षडयंत्र रच रही है, लेकिन कांग्रेस हर हाल में ओबीसी को अधिकार दिलायेगी।
कांग्रेस नेताओं ने आज पत्रकारों से चर्चा करते हुये शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र शर्मा , विधायक डॉ. सतीश सिंह सिकरवार ने कहा कि पिछडा वर्ग को सबसे पहले कांग्रेस ने १४ प्रतिशत आरक्षण दिया। उसके बाद जब कांग्रेस की कमलनाथ सरकार आई तो उसने २७ प्रतिशत आरक्षण के लिये पहल की और विधानसभा में भी प्रस्ताव लाकर २७ प्रतिशत आरक्षण देने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि अब भाजपा केवल श्रेय लेने के लिये इस प्रकार से न्यायालय में खडी है। उन्होने आरोप लगाते हुये कहा कि भाजपा की १५ सालों तक सरकार रही लेकिन तब उसने पिछडा वर्ग के लिये कुछ भी नहीं किया अब श्रेय लेने का प्रयास कर निकाय चुनावों और पंचायत में वोट पाना चाह रही है। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं जिस एक पत्र को लेकर भाजपा के लोग घूम रहे हैं। वह टंकण गलती का है। क्योंकि उस समय भी प्रदेश में ५२ प्रतिशत पिछडा वर्ग के लोग थे और अब भाजपा के आयोग ने केवल ४८ प्रतिशत बताये है। उन्होंने कहा कि भाजपा जो कर रही है वह आरएसएस के एजेंडे का हिस्सा है। वह तो पूरी तरह से आरक्षण समाप्त करना चाहती है। पत्रकार वार्ता मे प्रदेश महामंत्री सुनील शर्मा, पिछडा वर्ग के महाराज सिंह पटेल आदि मौजूद रहे।

Popular Posts