BREAKING!
  • केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के प्रथम नगर आगमन में होगा भव्य स्वागत
  • प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट बोले कांग्रेस बची कहाँ है
  • केके उपाध्याय यूपी के वेस्ट एडीटर अवार्ड से सम्मानित
  • यह है स्मार्ट सिटी का रूप
  • आज 20 सितंबर को विपक्षीय दलो का फूलबाग पर धरना
  • बजरंग भक्त मण्डल ने की इस सप्ताह 1600 किलो हरे चारे की गौभोग सेवा
  • रोटरी क्लब ग्वालियर रीगल का शपथ ग्रहण समारोह सम्पन्न
  • झाँसी मंडल स्वच्छता पखवाड़ा–2021 का आयोजन
  • गृह मंत्री डॉ. मिश्र का भ्रमण कार्यक्रम
  • सड़कों की पेंच रिपेयरिंग के साथ-साथ स्ट्रीट लाईट संधारण का कार्य भी प्राथमिकता से किया जाए

Sandhyadesh

ताका-झांकी

मंडल के सोनी तथा कटारा रोड स्टेशन पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का कार्य हुआ संपन्न

12-Sep-21 23
Sandhyadesh

मंडल रेल प्रबंधक आशुतोष के कुशल निर्देशन में आज लक्ष्य समय सीमा से पूर्व ही झाँसी मंडल के सोनी तथा कटारा रोड पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कार्य पूर्ण कर लिया गया I उक्त संस्थापन कार्य के पूर्ण होने से ग्वालियर भिंड-रेलखंड के मध्य स्थित सोनी स्टेशन तथा कानपुर-खैरार रेलखंड पर कटारा रोड स्टेशन से गुजरने वाली गाड़ियों के संचालन को गति मिलेगी तथा उक्त खण्डों को पारंपरिक इलेक्ट्रो-मैकेनिकल प्रणाली से पूर्णतः मुक्ति मिल जाएगी I इन स्टेशनों से गुजरने वाली गाड़ियों का संचालन अब 50 किमी प्रति घंटा से बढाकर 110 किमी की अधिकतम अनुमेय गति से किया जा सकेगा I 
सोनी स्टेशन पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग कार्य पूर्ण होने से ग्वालियर-इटावा रेलखंड पूर्णतः इलेक्ट्रो-मैकेनिकल इंटरलॉकिंग रहित हो गया है I  इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग प्रणाली का संस्थापन RDSO के नए स्वीकृत डायग्राम के तहत हुआ है I उक्त प्रणाली के संस्थापन से एक ही समय पर गाड़ियों का आगमन तथा प्रस्थान आसानी से संभव हो सकेगा I पूर्व में उक्त खंड में स्टैण्डर्ड-I इंटर-लॉकिंग व्यवस्था संस्थापित थी, जिसके स्थान पर अब स्टैण्डर्ड III टाइप, मेधा ब्रांड की स्वदेशी इंटरलॉकिंग डिवाइस का संस्थापन किया गया है I  उल्लेखनीय है की क्षेत्रीय रेल में पहली बार ऐसा हुआ है की एक ही दिन में अलग-अलग रेलखंड पर 02 स्टेशनों पर इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग का कार्य संपन्न होने जा रहा है I अभी तक रेल कर्मचारी द्वारा पॉइंट पर जाकर लीवर द्वारा  सिग्नल दिया जाता रहा, जिसके स्थान पर अब स्टेशन मास्टर कक्ष में लगे पेनल के एक बटन दबाते ही सिग्नल स्वतः बदल जायेंगे I इस संस्थापन से सोनी स्टेशन जो अभी तक 02 लाइनों का स्टेशन था अब तीन लाइनों का हो गया है I 
भीमसेन के निकट स्थित कटारा रोड स्टेशन पर सिग्नल एक्सचेंज एंड टू एंड केबिन से लीवर फ्रेम के माध्यम से किये जाते थे, जो की अब स्टेशन प्रबंधक के पास केन्द्रीयकृत हो गए हैं I  उक्त संस्थापन से मैन पॉवर तथा समय की बचत होगी और संरक्षा में वृद्धि भी होगी I  कोविड-19 की विषम परिस्थितियों में सभी सावधानियों सहित यह कार्य वरि. मंडल सिग्नल एवं दूरसंचार (समन्वय) अमित गोयल, वरि. मंडल सिग्नल एवं दूरसंचार (कार्य) नेहा चौधरी तथा वरि. मंडल सिग्नल एवं दूरसंचार (ब्रांच लाइन) एस एस सैनी के नेतृत्व में संपन्न हुआ  I

Popular Posts