BREAKING!
  • केन्द्रीय मंत्री सिंधिया के प्रथम नगर आगमन में होगा भव्य स्वागत
  • प्रभारी मंत्री तुलसी सिलावट बोले कांग्रेस बची कहाँ है
  • केके उपाध्याय यूपी के वेस्ट एडीटर अवार्ड से सम्मानित
  • यह है स्मार्ट सिटी का रूप
  • आज 20 सितंबर को विपक्षीय दलो का फूलबाग पर धरना
  • बजरंग भक्त मण्डल ने की इस सप्ताह 1600 किलो हरे चारे की गौभोग सेवा
  • रोटरी क्लब ग्वालियर रीगल का शपथ ग्रहण समारोह सम्पन्न
  • झाँसी मंडल स्वच्छता पखवाड़ा–2021 का आयोजन
  • गृह मंत्री डॉ. मिश्र का भ्रमण कार्यक्रम
  • सड़कों की पेंच रिपेयरिंग के साथ-साथ स्ट्रीट लाईट संधारण का कार्य भी प्राथमिकता से किया जाए

Sandhyadesh

ताका-झांकी

अमृत परियोजना का लाभ शहरवासियों को मिले, इसके लिए निर्धारित समय में कार्य पूर्ण किए जाएँ

31-Jul-21 66
Sandhyadesh

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक में सांसद  शेजवलकर ने दिए निर्देश
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ अधिक से अधिक किसानों को मिले इसके लिए
ग्रामीण क्षेत्रों में लगाएं चौपाल
ग्वालियर / अमृत परियोजना का लाभ शहरवासियों को मिले, इसके लिये कार्य तेजी से किया जाना चाहिए। शहर में शुद्ध और पर्याप्त पेयजल आम आदमी को मिले, इसके लिये नगर निगम 56 डीएमए का कार्य अक्टूबर माह तक तथा शेष डीएमए का कार्य नवम्बर माह तक पूर्ण करें। इसके तहत पानी की टंकियों से लाईन का मिलान और 24X7 पानी का वितरण सुनिश्चित किया जाए। क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने शनिवार को जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक में यह निर्देश दिए हैं।
    कलेक्ट्रेट कार्यालय के सभाकक्ष में क्षेत्रीय सांसद  विवेक नारायण शेजवलकर की अध्यक्षता में आयोजित हुई दिशा की बैठक में केन्द्र सरकार द्वारा संचालित विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं की विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में विधायक ग्वालियर पूर्व डॉ. सतीश सिकरवार, विधायक डबरा  सुरेश राजे, जिला पंचायत प्रशासकीय समिति की अध्यक्ष श्रीमती मनीषा यादव, कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, नगर निगम आयुक्त श्री शिवम वर्मा, सीईओ जिला पंचायत  किशोर कान्याल, डीएफओ  अभिनव पल्लव, सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती जयति सिंह सहित समिति के सदस्य श्रीमती अनीता मोतीसिंह,  दर्शन सिंह,  सुरेन्द्र सिंह गुर्जर सहित सभी सदस्य और विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
    क्षेत्रीय सांसद  विवेक नारायण शेजवलकर ने नगर निगम के कार्यों की समीक्षा के दौरान कहा कि शहर के लिए अति महत्वपूर्ण परियोजना अमृत के तहत जो कार्य किए जा रहे हैं उसे शीघ्रता से पूर्ण करें, ताकि आम जनों को बेहतर सुविधायें मिल सकें। पीने के पानी के लिये शहर में निर्मित की गईं टंकियों के माध्यम से क्षेत्रवासियों को 24X7 पानी की उपलब्धता सुनिश्चित हो, इसके लिये सभी डीएमए का कार्य पूर्ण किया जाए। इसके साथ ही सीवर परियोजना के तहत भी जो कार्य शेष हैं उन्हें तत्पतरा से पूर्ण करें।
    क्षेत्रीय सांसद  शेजवलकर ने बैठक में यह भी निर्देश दिए हैं कि अमृत परियोजना के तहत पानी एवं सीवर की लाईन बिछाने के लिये जो सड़कें खोदी गई हैं उसको शीघ्र-अतिशीघ्र यथास्थिति करने की दिशा में तेजी से कार्य हो। अमृत परियोजना के तहत कार्य कर रही एजेन्सियों को इसके लिये समयवार कार्यक्रम तैयार कर निर्देशत किया जाए। उन्होंने नगर निगम आयुक्त से यह भी अपेक्षा की कि शहर की स्वच्छता के लिये भी और सार्थक प्रयास किए जाएं। नगर निगम पहले की भाँति बीट सिस्टम स्थापित कर सफाई एवं नालियों की सफाई के लिये पृथक-पृथक दल भी बनाएँ। डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन और कचरे के निष्पादन के लिये भी ठोस कार्ययोजना बनाकर कार्य तेजी से किया जाए। शहर की स्वच्छता में आम नागरिकों की सहभागिता और सहयोग के लिये भी विशेष अभियान चलाकर कार्य किया जाए।
    क्षेत्रीय सांसद  शेजवलकर ने नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा से कहा है कि आईएचएसडीपी योजना के तहत निगम द्वारा जो आवास तैयार किए गए हैं वहाँ के निवासियों को सभी मूलभूत सुविधायें मिलें, इसके लिये भी निगम कार्रवाई करे। आगामी बैठक में निगम आयुक्त इस दिशा में किए गए कार्यों की रिपोर्ट भी प्रस्तुत करें। उन्होंने यह भी निर्देशित किया कि आईएचएसडीपी योजना एवं अन्य आवासीय योजनाओं में बिना आवंटन के अगर कोई व्यक्ति अनाधिकृत रूप से रह रहा है तो उससे आवास खाली कराने की कार्रवाई भी की जाए। की गई कार्रवाई की जानकारी आगामी बैठक में रखी जाए।
    क्षेत्रीय सांसद  विवेक नारायण शेजवलकर ने प्रधानंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा की। बैठक में सड़कों की गुणवत्ता को लेकर की गई शिकायत पर उन्होंने कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह से कहा है कि योजना के तहत निर्मित की गईं सड़कों की गुणवत्ता की जाँच हेतु एक दल गठित कर जाँच कराई जाए। गुणवत्ता में कमी पाए जाने पर संबंधित अधिकारियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई भी सुनिश्चित की जाए। प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत बिलौआ और पिछोर नगर पंचायत में प्रथम किस्त मिलने के पश्चात दूसरी किस्त न देने की शिकायत पर भी उन्होंने सीईओ जिला पंचायत को जाँच कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।
    क्षेत्रीय सांसद  शेजवलकर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की समीक्षा के दौरान कहा है कि किसानों को योजना के लाभों की जानकारी देने हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में किसानों की चौपाल आयोजित कर योजना की विस्तृत जानकारी दी जाए। इस योजना के माध्यम से अधिक से अधिक किसान लाभ प्राप्त कर सकें। इसके लिये जन जागरूकता का कार्य भी कृषि विभाग करे।
डबरा में केन्द्रीय विद्यालय निर्माण का कार्य शीघ्र प्रारंभ हो
    दिशा की बैठक में डबरा में निर्मित होने वाले केन्द्रीय विद्यालय भवन के निर्माण की भी समीक्षा की गई। सांसद  शेजवलकर ने कहा कि केन्द्रीय विद्यालय के लिये जमीन निर्धारित होने और स्वीकृति के पश्चात भी निर्माण कार्य में किन कारणों से विलम्ब हो रहा है। विद्यालय भवन के निर्माण का कार्य तत्परता से प्रारंभ किया जाए। केन्द्रीय विद्यालय की ओर से बताया गया कि निर्माण एजेन्सी भी निर्धारित हो गई है। भवन निर्माण का कार्य शीघ्र ही प्रारंभ होगा। श्री शेजवलकर ने कलेक्टर से कहा कि वे व्यक्तिगत तौर पर विद्यालय भवन निर्माण के कार्य को शीघ्र प्रारंभ कराने की पहल करें।
आयुष्मान कार्ड बनाने का कार्य तेजी से हो
    आयुष्मान भारत अभियान के तहत जरूरतमंदों को पाँच लाख रूपए तक का नि:शुल्क इलाज उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। इस योजना का लाभ सभी जरूरतमंदों को मिले, इसके लिये जरूरी है कि सभी पात्र हितग्राहियों के पास आयुष्मान कार्ड हो। शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र में विशेष प्रयास कर सभी पात्र लोगों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराए जाएँ। ग्वालियर जिले में कुल 8 लाख 24 हजार 322 लोगों को कार्ड उपलब्ध कराने के लक्ष्य के विरूद्ध अब तक 4 लाख 98 हजार 261 आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। लक्ष्य अनुरूप कार्ड बनवाने का कार्य तेजी से किया जाए। इसके लिये आवश्यक हो तो शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में कैम्प भी लगाए जाएं।
दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना का लाभ छोटे मजरे-टोलों को भी मिले
    क्षेत्रीय सांसद  विवेक नारायण शेजवलकर ने दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण ज्योति योजना की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि योजना के तहत शासन द्वारा चिन्हित मजरे-टोलों में विद्युतीकरण का कार्य हो गया है। योजना के तहत 25 से अधिक परिवार जिन मजरे-टोलों में रहते हैं उनके भी विद्युतीकरण का कार्य किया जा रहा है। जिले में ऐसे मजरे-टोले भी हैं, जिनमें 25 से कम परिवार निवास करते हैं। ऐसे मजरे-टोलों को भी योजना में शामिल करने का प्रस्ताव तैयार किया जाए, ताकि केन्द्र सरकार से उसकी स्वीकृति हेतु प्रयास किए जा सकें।
रेलवे स्टेशन के विस्तार की योजना की समीक्षा
    क्षेत्रीय सांसद  विवेक नारायण शेजवलकर ने ग्वालियर रेलवे स्टेशन के विस्तार एवं सौंदर्यीकरण की योजना के संबंध में भी चर्चा की।  240 करोड़ रूपए की लागत से ग्वालियर रेलवे स्टेशन के सौंदर्यीकरण की कार्ययोजना है। तकनीकी टीम की ओर से जानकारी दी गई कि कार्ययोजना तैयार कर स्वीकृति हेतु रेलवे बोर्ड को भेजी गई है। स्वीकृति के पश्चात टेण्डरिंग की कार्रवाई की जाएगी। सांसद  शेजवलकर ने कहा कि रेलवे बोर्ड के लिये योजना के संबंध में प्रस्ताव तैयार कर भेजा जाए। इस संबंध में केन्द्रीय रेल मंत्री से भी संपर्क कर योजना को शीघ्र प्रारंभ करने के संबंध में चर्चा की जाएगी।
    बैठक में विधायक डॉ. सतीश सिकरवार, विधायक  सुरेश राजे एवं अन्य सदस्यों ने भी अपने महत्वपूर्ण सुझाव रखे। सदस्यों के सुझावों पर गंभीरता से चर्चा हुई और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए गए। कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने भी आवश्वस्त किया कि शासन की कल्याणकारी योजनाओं का लाभ लोगों को समय पर मिले, इसके लिये सार्थक प्रयास किए जा रहे हैं।

Popular Posts