BREAKING!
  • माखीजानी व देवेन्द्र को बिना कार्यकारिणी के भा रही जिलाध्यक्षी
  • पत्रकार की परिभाषा तय किया जाना चाहिए: शारदा
  • वैक्सीन के बाद भी मास्क लगाना जरूरी: डाॅ.राहुल भार्गव
  • सकारात्मक जीवन जीने के लिए प्रेरित करने वेबिनार आयोजित
  • MP ने UP, राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र से 23 तक बस परिवहन रोका
  • जल्द ही प्रदेश के दो बड़े नेता केन्द्रीय मंत्री बनेंगे ?
  • एमपी वर्किंग जनर्लिस्ट यूनियन की मांग CM शिवराज ने मानी, अब सभी मीडिया कर्मियों का इलाज कराएगी सरकार
  • आपदा में अवसर न समझे वह साक्षात भगवान का स्वरूप है - गोविंद भैया
  • म प्र डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन ने अभियंताओं को मुख्यमंत्री कोविड-19 योद्धा कल्याण योजना में सम्मिलित किए जाने की मांग की
  • राजनीतिक संरक्षण के बिना नकली दवा का कारोबार संभव नहीं : अजय सिंह

Sandhyadesh

ताका-झांकी

मैहर में शारदा मां के मंदिर में लगा ताला, चैत्र नवरात्र में नहीं होंगे दर्शन

12-Apr-21 59
Sandhyadesh

अखिलेश द्विवेदी पत्रकार शहडोल 
मैहर। मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण का असर मंदिरों में भी देखा जा रहा है। मैहर स्थित शारदा मां के धाम में ताला लगा दिया गया है। इससे चैत्र नवरात्र में भक्तों को मां का दर्शन नहीं मिलेगा। यह फैसला मंदिर समिति की तरफ से बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण की वजह से लिया गया है।

*बीते वर्ष भी नहीं हुए थे दर्शन*
मंदिर प्रशासन ने प्रवेश के पूर्व ही मंदिर में ताला जड़ दिया है। बीते वर्ष की भांति इस वर्ष भी चैत्र नवरात्र में मां शारदा का मंदिर पूरी तरह बंद रहेगा। ना तो भक्तों को प्रवेश मिलेगा और ना ही लोग मंदिर में जा सकेंगे। हालांकि मां की पूजा-अर्चना के लिए सुबह और शाम पुजारी जा सकेंगे।

कई राज्यों से दर्शन करने आते हैं भक्त
मैहर स्थित शारदा मां के मंदिर में यूपी, बिहार, राजस्थान, हरियाणा और मध्य प्रदेश सहित कई जिलों के भक्त नवरात्र में दर्शन करने के लिए आते हैं। चैत्र और शारदीय नवरात्र में यहां पर भक्तों की बड़ी संख्या में भीड़ उमड़ती है।

*चित्रकूट का अमावस्या मेला भी स्थगित*
बढ़ते कोरोना संक्रमण की वजह से चित्रकूट स्थित अमावस्या मेले को भी स्थगित कर दिया गया है। इस मेले का आयोजन 11 अप्रैल से 12 अप्रैल तक होना था। लेकिन प्रशासन द्वारा इस मेले पर भी रोक लगा दी गई है। मध्य प्रदेश की सतना और उत्तरप्रदेश के चित्रकूट प्रशासन ने मिलकर यह कदम कोरोना संक्रमण के फैलते मामलों को देखकर उठाया है।

Popular Posts