BREAKING!
  • माखीजानी व देवेन्द्र को बिना कार्यकारिणी के भा रही जिलाध्यक्षी
  • पत्रकार की परिभाषा तय किया जाना चाहिए: शारदा
  • वैक्सीन के बाद भी मास्क लगाना जरूरी: डाॅ.राहुल भार्गव
  • सकारात्मक जीवन जीने के लिए प्रेरित करने वेबिनार आयोजित
  • MP ने UP, राजस्थान, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र से 23 तक बस परिवहन रोका
  • जल्द ही प्रदेश के दो बड़े नेता केन्द्रीय मंत्री बनेंगे ?
  • एमपी वर्किंग जनर्लिस्ट यूनियन की मांग CM शिवराज ने मानी, अब सभी मीडिया कर्मियों का इलाज कराएगी सरकार
  • आपदा में अवसर न समझे वह साक्षात भगवान का स्वरूप है - गोविंद भैया
  • म प्र डिप्लोमा इंजीनियर्स एसोसिएशन ने अभियंताओं को मुख्यमंत्री कोविड-19 योद्धा कल्याण योजना में सम्मिलित किए जाने की मांग की
  • राजनीतिक संरक्षण के बिना नकली दवा का कारोबार संभव नहीं : अजय सिंह

Sandhyadesh

ताका-झांकी

इन दिनों गूंज है:साथ चलो महाराज, महाराज-शिवराज की जोडी नंबर-1

11-Feb-21 519
Sandhyadesh

विनय अग्रवाल 
पिछले चुनावों में भाजपा का नारा था माफ करो महाराज, कांग्रेस द्वारा ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में लडे गये चुनाव अभियान की काट के लिये  तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पूरी भाजपा ने नारा दिया कि माफ करो महाराज , हमारा नेता शिवराज । 
अब चूंकि प्रदेश के राजनैतिक परिदृश्य बदल गया है, अब सिंधिया विभिन्न परिस्थितियों के कारण भाजपा में है, और भाजपा ने उनके बलबूते विधायक तोडकर राज्य में सरकार भी बना ली है। इसीलिये अब नई भाजपा सरकार के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का नया नारा है, साथ चलो महाराज। आजकल मुख्यमंत्री जी हर कार्यक्रम विशेषकर ग्वालियर चंबल संभाग में तो बिना महाराज के आते ही नहीं है। 
साथ चलो महाराज का नारा सार्थक हो, इसीलिये महाराज को भाजपा और पूरी सरकार हाथों हाथ ले रही है। स्वयं महाराज भी बिना शिवराज के हिल नहीं रहे हैं। ग्वालियर आना होता है तो वह भोपाल सुबह की फ्लाइट से दिल्ली से पहुंच जाते हैं फिर स्टेट प्लेन से मुख्यमंत्री शिवराज के साथ आते हैं। 
महाराज शिवराज की इस जोडी के परिदृश्य से ग्वालियर-चंबल अंचल के बडे नेता अब बाहर होते जा रहे हैं। स्वयं बडे नेताओं की अनुपस्थिति ग्वालियर के भाजपा कार्यक्रमों में खलने लगी है। लेकिन अब महाराज भाजपा के साथ अपनी नई राजनैतिक पारी में पूरे जोश से हैं। उन्होंने अब ग्वालियर के विकास के लिये अपना विजन सेमीनार भी रखा है, जो वीनस वेंकट हाल में होगा। इसमें सभी संस्थाओं को भी आमंत्रित किया गया है। ऐसा पहली बार हो रहा है जब सिंधिया विकास विजन के लिये आम लोगों के साथ बैठ रहे हैं।

Popular Posts