BREAKING!
  • पवैया अयोध्या निकले, चंबल का जल व मिट्टी ले गये
  • कमिश्रर का ज्यादा काम करना ही परेशानी
  • क्या पवैया का नया अवतार हिन्दू नेता के रूप में .....?
  • राष्ट्रीय बाल आयोग 24 घण्टे सेवा और मार्गदर्शन में सलंग्न:प्रियंक क़ानूनगो
  • नव युवकों ने अशोक शर्मा के नेतृत्व में ली कांग्रेस की सदस्यता
  • बजरंग दल सौंपेगा पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष जयभान सिंह पवैया को चम्बल नदी का पवित्र जल कलश एवं मिट्टी
  • गोहद में संजू, डबरा में सत्यप्रकाशी , भांडेर में फूलसिंह , यह हैं कांग्रेस के तारणहार
  • 120 इलेक्ट्रीकल साईकिल प्रतिवर्ष मिलेंगी प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को
  • उपभोक्ता के अधिकारों का संरक्षण करता है उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम- डॉ वी. के. श्रोत्रीय
  • अधिकारों की रक्षक है रिट- एडवोकेट विवेक जैन

Sandhyadesh

आज की खबर

कहीं तो कुछ गड़बड़ है एमपी में

04-Sep-19 778
Sandhyadesh


भोपाल।  मध्यप्रदेश में जिस तरह से कमलनाथ सरकार के मंत्री अपनी ही पार्टी के नेताओं पर आरोपों की दनादन बौछार कर रहे हैं। उससे लगता है कि कहीं न कहीं कुछ गड़बड़ है। बीती रात्रि पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा भी अपने कोटे के सभी मंत्री व विधायकों को जय विलास पैलेस में भोज भी दिये जाने की खबर है। 
इधर निर्दलीय विधायक सुरेन्द्र सिंह शेरा भी अपने रंग मेें आ गये हैं। भिंड के बसपा विधायक भी समय का इंतजार कर रहे हैं। कुल मिलाकर कांग्रेस की नई बनी सरकार में जो कुछ चल रहा है, उसे बेहतर नहीं कहा जा सकता। 
वन मंत्री उमंग सिंघार के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर ताबड़तोड़ आरोपों के बाद कांग्रेस नेता सरकार के भविष्य के बारे में सोचने लगे हैं। कुछ का यह कहना है कि वन मंत्री उमंग सिंघार को अपनी बात पार्टी फोरम पर उठानी चाहिये थी, इस तरह सार्वजनिक नहीं की जानी चाहिये थी। इससे पहले से ही घट -घटे पर चल रही सरकार की हालत दयनीय हो रही है। अधिकारी पहले ही हम लोगों की नहीं सुन रहे, अब तो गुटबाजी में फसेंगे तो बिल्कुल ही अधिकारी इग्रोर कर देंगे। 
दरबारीलाल.........

2020-08-03aaj