BREAKING!
  • MPCCI पदाधिकारी प्रतिनधिमण्डल ने CM शिवराज से की मुलाकात
  • ठाठीपुर चौराहा पर कांग्रेस कमेटी आईटी सेल के जिला अध्यक्ष ने धरना दिया
  • यूपी एसटीएफ ने विकास दुबे के दो साथियों को ग्वालियर से उठाया
  • राज्य मंत्री भदौरिया ने माधवराव सिंधिया की प्रतिमा पर श्रृद्धा-सुमन अर्पित किए
  • स्मार्ट सिटी परियोजना से शहरवासियों को जोड़ा जाए: सांसद शेजवलकर
  • मुख्यमंत्री चौहान आज ग्वालियर व मुरैना प्रवास पर रहेंगे
  • सेवापथ की ओर बढ़ते सिंधिया समर्थकों के काफिले.......!
  • थाना स्तर पर व्यापारिक समितियां बनायेगा कैट : भूपेन्द्र जैन
  • इंतहा हो गई विभाग वितरण में .........?
  • अब ओपीएस भी सेवा पथ में

Sandhyadesh

आज की खबर

भाजपा गोपनीय सर्वे को लेकर चिंतित, दलबदलू 13 सीटों पर कमजोर

27-Apr-20 4638
Sandhyadesh

कांग्रेस से इस्तीफा देने वाले मंत्री और विधायकों सहित भाजपा आलाकमान इन दिनों मध्यप्रदेश को लेकर बेहद हैरान है। हैरानी का कारण भाजपा द्वारा कराया गुपचुप सर्वे है, जिसमें इन 22 पूर्व विधायकों और मंत्रियों में से 13 की सीट खतरे में दिखाई पड़ रही है। इसी कारण अब भाजपा भी मंत्रिमंडल विस्तार में इन पूर्व मंत्रियों की भागीदारी पर संशय कर रही है। 
सूत्रों के मुताबिक भाजपा आलाकमान के इशारे पर एक सर्वे एजेंसी ने मध्यप्रदेश में इस्तीफा देने वाले कांग्रेस विधायकों और सरकार के उन मंत्रियों का सर्वे किया था जिस सर्वे में यह बात सामने आई तो आलाकमान भी चौंक गया है, जिसमें भाजपा के टिकट पर कांग्रेस के 13 पूर्व विधायक व मंत्रियों की हालत पतली दिखाई पड़ती है। 
बताया जाता है कि भाजपा आलाकमान इन सर्वे को लेकर चिंतित है और यही कारण है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने अपने मंत्रीमंडल विस्तार में कांग्रेस के पूर्व मंत्रियों को स्थान देने में कंजूसी बरती। अन्यथा वायदे के मुताबिक इस्तीफा देने वाले सभी मंत्रियों को पुन: मंत्री बनाया जाना था। 
अब संभावना इस बात की भी बन गई है कि अब मुख्यमंत्री अपना मंत्रीमंडल विस्तार इसी कारण फिलहाल लॉक डाउन के नाम लेकर कुछ समय को टाल भी दें। 
क्रमश: 

2020-07-12