BREAKING!
  • नर ही नारायण है की भावना से ओतप्रोत सत्येन्द्र शर्मा ने 71 वे दिन भी भोजन वितरण किया
  • नियम कायदों को तोडकर कांग्रेस ने की बैठक , एसडीएम ने थमाया नोटिस, मांगा जवाब
  • मण्डी लाइसेंस की नवीनीकरण तारीख को बढ़ाया जाए एवं फीस को यथावत् बनाए रखा जाए : चेम्बर
  • जेके जैन सागर संभाग के नये कमिश्रर होंगे
  • मानवसेवा के 70वे दिन कमल माखीजानी एवं सत्येन्द्र शर्मा ने भोजन वितरण किया
  • चुनावी लोकप्रियता नहीं, जनता की भलाई के लिए काम कर रही मोदी सरकारः नरेंद्रसिंह तोमर
  • रेत की लूट का कम्पन
  • ट्रेनों के आगमन से यात्रियों की आवा-जाही शुरू
  • मंत्री कोटा बढाने की मांग
  • स्व. बांदिल की पुण्यतिथि पर भाजपा नेताओं ने किया याद

Sandhyadesh

आज की खबर

फर्जी समाज सेवी और संस्थाओं के पदाधिकारी घरों में दुबके

31-Mar-20 154
Sandhyadesh

वैश्विक आपदा कोरोना (कोविद 19) महामारी के प्रकोप से जहां पूरे देश के लोग लॉक डाउन को मान रहे हैं। वहीं आपदा के समय तथा सामान्य समय में अपने को समाचार पत्रों के माध्यम से सामने रहने वाले फर्जी समाजसेवी और स्वयं सेवी संस्थाओं के पदाधिकारी कहीं भी नजर नहीं आ रहे हैं। 
वैश्विक आपदा में इन दिनों आरएसएस के कार्यकर्ता सहित कुछ धार्मिक तथा व्यापारिक संस्थाएं सामने आकर दिल्ली से पैदल आ रहे तथा आपदा के लॉक डाउन में फंसे लोगों को भोजन से लेकर अन्य सहायता कर रहीं हैं लेकिन केवल कागजों पर छाये रहने वाले फर्जी समाज सेवी इस विपदा में कहीं भी नजर नहीं आ रहे हैं। बताया जाता है कि कुछ स्वयं सेवी संस्थाएं कागजों पर लाखों करोडों रूपये की सहायता केन्द्र और राज्य सरकारों से लेती हैं लेकिन उसके बाद भी संकट की घडी में उनके ना तो पदाधिकारी कहीं नजर आ रहे हैं और ना ही उनके कार्यकर्ता। आपदा गुजरने के बाद राज्य और केन्द्र सरकार को देखना चाहिये कि कागजी कार्रवाई कर पैसों का हेर फेर कर अपने घर भरने वाली ऐसी स्वयं सेवी संस्थाओं के विरूद्ध क्या कार्रवाई करे जिससे आगे कभी आपदा के समय ऐसी संस्थाएं स्वयं सक्रिय होकर लाचार लोगों की मदद करें। 
दरबारीलाल.............

2020-06-04