BREAKING!
  • ट्रेनों के आगमन से यात्रियों की आवा-जाही शुरू
  • मंत्री कोटा बढाने की मांग
  • स्व. बांदिल की पुण्यतिथि पर भाजपा नेताओं ने किया याद
  • सिंधिया जानते थे भारतीय जनता पार्टी विकास के लिए प्रतिबद्ध है इसलिए भाजपा में आए: शेजवलकर
  • संभाग आयुक्त ओझा ने कोविड-19 पर प्रकाशित पुस्तक का किया विमोचन
  • बीएसएनएल को पटरी पर लाने की कवायद
  • मंत्रीमंडल विस्तार कब करें, यह गेंद अब शिवराज के पाले में
  • जिसे यश मिलना होता है, माता सेवा का अवसर सिर्फ उसे देती है--- जितेन्द्र जामदार
  • कोरोना पाजिटिव होना, भय का कारण नहीं -- डा जितेन्द्र जामदार
  • मजबूत युवा भारत के आगे घुटने टेकता कोरोना. कमजोर कोरोना के तेज फैलाव से डरने की जरुरत नहीं

Sandhyadesh

आज की खबर

सूने पडे हैं स्टेशन, बस स्टेंड

29-Mar-20 107
Sandhyadesh

ग्वालियर। कोरोना वायरस की महामारी ने ग्वालियर शहर की आबोहवा खराब कर दी है। लॉक डाउन के चलते पूरे शहर में सन्नाटा बिखरा पडा है और रेलवे स्टेशन , बस स्टेंड , शापिंग मॉल सभी सूने पडे हैं। ग्वालियर रेलवे स्टेशन इतिहास में पहली बार हुआ है , जब ग्वालियर रेलवे स्टेशन ही आम लोगों के लिये बंद पडा है। 
देशभर की सवारी ट्रेनें १४ अप्रैल तक निरस्त कर दिये जाने से ग्वालियर का रेलवे स्टेशन पूरी तरह से बंद है। रेलवे स्टेशन के सभी कार्यालय बंद पडे हैं। केवल रेलवे स्टेशन मैनेजर व रेलवे परिचालन विभाग के अधिकारी कर्मचारी ही जा रहे हैं। ताकि कोरोना वायरस के चलते देश भर में खाद्य पदार्थों व जरूरी सामानों की आपूर्ति बाधित न हो। 
ग्वालियर रेलवे स्टेशन से प्रतिदिन लगभग सौ मालगाडियां पास हो रही है, जो देशभर के विभिन्न स्थानों पर पहुंच रही हैं। इसीलिये रेलवे परिचालन विभाग के अधिकारी व स्टेशन प्रबंधक , यार्ड , केबिन से जुडे अधिकारी कर्मचारी इन गुडस ट्रेनों का सफलतापूर्वक संचालन कर रहे हैं। यात्री ट्रेनों की आवाजाही एक सप्ताह से बंद पडी है, जिसके चलते अब आम आदमी का स्टेशन पर आना प्रतिबंधित कर दिया है। स्टेशन परिक्षेत्र को पूरी तरह वेरीकेटिंग कर बंद कर दिया गया है। वहीं स्टेशन के मेन गेट पर ताला भी लगा दिया गया है। 
आरपीएफ व जीआरपी के जवान गेट व परिक्षेत्र में तैनात हैं, ताकि कोई शरारती तत्व स्टेशन परिक्षेत्र में प्रवेश न कर सके। स्टेशन पर स्थित पार्सल घर भी पूरी तरह से बंद है। 

2020-06-03