BREAKING!
  • नन्हीं बच्ची और 350 किलोमीटर का सफर देख निगम कमिश्रर माकिन रो पडे
  • ताराविद्यापीठ की तरफ से 71 हजार रूपये की राशि रेडक्रास को भेंट की
  • कर्मों का फल प्राप्त किए बिना कोई नहीं हो सकता मुक्त: मुनिश्री
  • नन्हीं बच्ची और 350 किलोमीटर का सफर देख निगम कमिश्रर माकिन रो पडे
  • कोरोना संकट में अभी क्या विश्वस्त सहयोगी बनेंगे मंत्री ....?
  • फर्जी समाज सेवी और संस्थाओं के पदाधिकारी घरों में दुबके
  • यशोधरा राजे सिंधिया ने फिर की जनता से अपील,घरों में रहे लॉक डाउन का करें पालन
  • BSNL की पहलः कोरोना के चलते Validity बढ़ाई, बैलेंस भी दिया
  • केंद्रीय मंत्री तोमर ने प्रधानमंत्री राहत कोष में 1 माह का वेतन दिया
  • जेके टायर जरूरतमंदों के लिए आगे आया, खाद्यान्न सामग्री बांटी

Sandhyadesh

आज की खबर

अब नेताओं की किस्मत चेतेगी

06-Mar-20 503
Sandhyadesh

मध्यप्रदेश में पिछले 15 वर्षों के बाद लगभग सवा साल पहले आई कांग्रेस सरकार के नेताओं की किस्मत अब एक बार फिर चेतने वाली है। राज्य में कांग्रेस सरकार के थोडा अस्थिर होते ही अब जो फार्मूला वरिष्ठ नेताओं ने तैयार किया है उसमें मंत्रियों के विभागों को कम कर मंत्रिमंडल के सदस्यों की संख्या बढाना और पिछले सवा साल से इंतजार कर रहे निगम मंडलों पर नेताओं को काबिज करना है। इसे देख लगता है कि निगम मंडलों में एक बार फिर से नेताओं की किस्मत का ताला खुलने वाला है वहीं सरकार को बचने का इंतजार करे बिना ही छुटभय्ये नेता अब राजधानी की दौड लगा गये हैं। 
मध्यप्रदेश में बीते तीन दिनों से चल रहे राजनैतिक घटना क्रम के बाद से कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने सरकार को बचाने के लिए जहां कवायद तेज की है। वहीं एक फार्मूला भी तय किया है जिसमें राज्य में खाली पडे निगम मंडलों पर जल्द ही नियुक्तियां दी जायेंगी इससे पार्टी में असंतोष को जहां कम किया जा सकेगा वहीं कई नेताओं के पठठे भी निगम मंडलों पर काबिज होकर अपने आका का और अपना रूतवा कार्यकर्ताओं लोगों को दिखायेंगे। अब देखना है कि राजनैतिक घटनाक्रम की परिणिति क्या होती है और उसके बाद कब तक नये फार्मूले के तहत निगम मंडलों पर नियुक्तियां होंगी इसका इंतजार रहेगा। 
दरबारीलाल.................

2020-03-31aaj