BREAKING!
  • MPCCI पदाधिकारी प्रतिनधिमण्डल ने CM शिवराज से की मुलाकात
  • ठाठीपुर चौराहा पर कांग्रेस कमेटी आईटी सेल के जिला अध्यक्ष ने धरना दिया
  • यूपी एसटीएफ ने विकास दुबे के दो साथियों को ग्वालियर से उठाया
  • राज्य मंत्री भदौरिया ने माधवराव सिंधिया की प्रतिमा पर श्रृद्धा-सुमन अर्पित किए
  • स्मार्ट सिटी परियोजना से शहरवासियों को जोड़ा जाए: सांसद शेजवलकर
  • मुख्यमंत्री चौहान आज ग्वालियर व मुरैना प्रवास पर रहेंगे
  • सेवापथ की ओर बढ़ते सिंधिया समर्थकों के काफिले.......!
  • थाना स्तर पर व्यापारिक समितियां बनायेगा कैट : भूपेन्द्र जैन
  • इंतहा हो गई विभाग वितरण में .........?
  • अब ओपीएस भी सेवा पथ में

Sandhyadesh

आज की खबर

तीस हजार के इनामी परमाल तोमर को शॉर्ट एनकाउन्टर में पुलिस ने किया गिरफ्तार

01-Dec-19 214
Sandhyadesh

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के ग्वालियर शहर में दस जुलाई को प्रॉपर्टी डीलर एवं डिस्क कारोबारी पंकज सिकरवार की हत्या की वारदात को अंजाम देकर दहशत फैलाने वाले कुख्यात बदमाश परमाल सिंह तोमर को आज पुलिस ने एक शार्ट एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया है। 
उक्त जानकारी आज पत्रकारों को बताते हुए डीआईजी एके पांडेय , पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन , अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक क्राइम पंकज पांडेय ने बताया कि जुलाई में वारदात करने के बाद से आरोपी परमाल फरार चल रहा था। वहीं पुलिस की टीम आरोपी की तलाश में लगी थी तभी पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी चार शहर के नाके से जलालपुर की ओर जा रहा है। तभी आरोपी बाइक से आता हुआ दिखाई दिया। पुलिस पार्टी से सामना होने पर आरोपी परमाल ने गोलियां चलानी शुरू कर दी। तभी पुलिस ने आत्मरक्षार्थ फायरिंग की जिसमें दो गोली परमाल को पैर में लगी। और वह बाइक से गिर पडा। पुलिस ने आरोपी को पकडा और पूछताछ में उसने अपना नाम परमाल सिंह तोमर पुत्र मुन्ना सिंह तोमर निवासी चार शहर का नाका हजीरा ग्वालियर बताया। उधर परमाल के साथी अंधेरे का लाभ लेकर भाग निकले। पुलिस ने आरोपी परमाल को जेएएच के ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया है। पुलिस उसके ठीक होने के बाद पंकज सिकरवार हत्याकांड के बारे में पतारसी करेगी। उधर पुलिस को आरोपी के पास से एक ३२ बोर की पिस्टल और एक नाइन एमएम की पिस्टल भी मिली। जिसमें पांच जिंदा कारतूस भी थे। परमाल पर कुल २६ अपराध ग्वालियर और मुरैना के विभिन्न थानों में दर्ज हैं। जिसमें हत्या, हत्या का प्रयास, डकैती, अपहरण जैसी वारदातें शामिल हैं। डीआईजी एके दुबे ने आरोपी परमाल को पकडने वाली टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। 
उधर आरोपी परमाल को पकडने में डीएसपी,अपराध रत्नेश सिंह तोमर,सीएसपी महाराजपुरा रवी भदौरिया, थाना प्रभारी अपराध शाखा दामोदर गुप्ता, थाना प्रभारी हजीरा आलोक परिहार,उप निरीक्षक मनोज सिंह परमार,हरेन्द्र राजपूत , प्रधान आरक्षक दिनेश तोमर, राजीव सोलंकी, गुलशन सोनकर,आरक्षक विकाश तोमर, योगेन्द्र तोमर, नरवीर राणा, रामवीर सिंह, नीरज यादव, सुमित भदौरिया, भगवती सोलंकी, की सराहनीय भूमिका रही है।

2020-07-12