BREAKING!
  • नेशनल हेल्थ मिशन का पेपर लीक, गिरोह के आठ सदस्य दबोचे, मास्टर माइंड प्रयागराज का
  • बदलते ग्वालियर में आप सभी का सहयोग जरूरी: ऊर्जा मंत्री
  • निगम अधिकारियों ने सुनी आमजन की समस्यायें
  • वार्ड समिति 3 की ज्योति एवं 4 के विवेक बने अध्यक्ष
  • विकास यात्रा में हितग्राहियों को किया हितलाभ का वितरण
  • स्त्री राष्ट्र की आधार शक्ति
  • कार्यों का हिसाब-किताब व विकास की सौगातें लेकर हम आपके गाँव आए हैं : कुशवाह
  • श्रीकृष्ण ने पढ़ाया था सच्ची मित्रता का पाठ, वर्तमान में बदल गयी परिभाषा:घनश्याम शास्त्री
  • मुख्यमंत्री जी बताये विकलांगजनों का कितना विकास कियाः जौहरी
  • विकास यात्रा के दौरान कलेक्टर ने किया विभिन्न शासकीय संस्थाओं का निरीक्षण

Sandhyadesh

ताका-झांकी

खुशियों की दास्तां: कमल खत्री अब चार दुकानों के मालिक हैं…

24-Jan-23 21
Sandhyadesh


(हितेन्द्र सिंह भदौरिया)
ग्वालियर । कमल खत्री की बैल्डिंग की छोटी सी दुकान थी। दिनभर बैल्डिंग करते-करते कमल थक जाते पर उतनी कमाई नहीं हो पाती जितनी उन्हें उम्मीद रहती। लेकिन कमल खत्री अब चार दुकानों के मालिक बन गए हैं। मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना ने उन्हें इन दुकानों का मालिक बनाया है। 
ग्वालियर जिले के मोहना कस्बे के निवासी कमल खत्री बताते हैं कि बैल्डिंग की दुकान से हमारे परिवार का खर्चा नहीं चल पा रहा था। इसी बीच मुझे पता चला कि मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के तहत हम जैसे युवाओं को सरकार स्वयं का कारोबार शुरू करने के लिये ऋण अनुदान मुहैया कराती है। मैंने भी जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र की मदद से सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया मोहना में स्टील एण्ड फर्नीचर इकाई के लिये आवेदन भर दिया। 
कमल बताते हैं कि मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना के तहत मुझे स्टील एण्ड फर्नीचर इकाई स्थापित करने के लिये 14 लाख 25 हजार रूपए का ऋण मंजूर हुआ। इससे हमने मोहना थाने के सामने इरीगेशन कॉलोनी में स्टील फेब्रिकेशन की दुकान खोली। कारोबार बढ़ा तो अब हमारी चार दुकानें हो गई हैं। वे बताते हैं कि स्टील, हार्डवेयर, पंखे व फर्नीचर की इन दुकानों से हर माह औसतन ढ़ाई लाख की बिक्री हो जाती है, जिसमें से सब खर्चा काटकर लगभग 40 हजार रूपए हमारे लिए बच जाते हैं। 
आत्मनिर्भर बनने की खुशी कमल के चेहरे पर साफ पढ़ी जा सकती है। वे कहते हैं कि हमारे परिवार में धर्मपत्नी, दो बेटियाँ व एक बेटा है। हमारे बच्चे अब अच्छे-अच्छे कपड़े पहनते हैं और खुशी-खुशी स्कूल पढ़ने जाते हैं। उनका कहना है कि अब हमें बच्चों की पढ़ाई की कोई चिंता नहीं है। मुख्यमंत्री मामा श्री शिवराज सिंह चौहान ने “मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना” शुरू कर हमारी सारी चिंताएँ हर ली हैं। 
(कमल खत्री का मोबा. नं. 7000396810)

Popular Posts