BREAKING!
  • नेशनल हेल्थ मिशन का पेपर लीक, गिरोह के आठ सदस्य दबोचे, मास्टर माइंड प्रयागराज का
  • बदलते ग्वालियर में आप सभी का सहयोग जरूरी: ऊर्जा मंत्री
  • निगम अधिकारियों ने सुनी आमजन की समस्यायें
  • वार्ड समिति 3 की ज्योति एवं 4 के विवेक बने अध्यक्ष
  • विकास यात्रा में हितग्राहियों को किया हितलाभ का वितरण
  • स्त्री राष्ट्र की आधार शक्ति
  • कार्यों का हिसाब-किताब व विकास की सौगातें लेकर हम आपके गाँव आए हैं : कुशवाह
  • श्रीकृष्ण ने पढ़ाया था सच्ची मित्रता का पाठ, वर्तमान में बदल गयी परिभाषा:घनश्याम शास्त्री
  • मुख्यमंत्री जी बताये विकलांगजनों का कितना विकास कियाः जौहरी
  • विकास यात्रा के दौरान कलेक्टर ने किया विभिन्न शासकीय संस्थाओं का निरीक्षण

Sandhyadesh

ताका-झांकी

उत्थान महिला मंडल ने नेताजी को याद किया

23-Jan-23 34
Sandhyadesh

ग्वालियर। उत्थान महिला मंडल एवं नेहरू युवक केन्द्र के संयुक्त तत्वाधान में राधाकृष्ण विद्यालय में नेताजी सुभाष चन्द्र बोस की जयंती पर एक चित्रकला स्पर्धा का आयोजन किया गया। इस स्पर्धा में बच्चों ने सुभाष चन्द्र बोस को याद किया। कुछ बच्चों ने चित्रों के माध्यम से नेताजी के जीवन चरित्र को उजागर किया।
Sandhyadesh
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राधाकृष्ण विद्यालय की प्राचार्य ने अपने उदबोधन में कहा कि नेताजी का जन्म उडीसा के कटक में एक बंगाली परिवार में हुआ था। नेता जी की शिक्षा कटक में ही हुई। नेताजी शुरू से ही प्रतिभा के धनी थे। उन्होंने अंग्रेजों से भारत को मुक्त कराने का संकल्प लिया, जिसके चलते कांग्रेस महाधिवेशन में भाग लिया। उन्होने बताया कि कुछ मतभेदों के चलते कांग्रेस पार्टी छोडकर उन्होंने युवाओं ,मजदूरों का संगठन बनाया। नेताजी चाहते थे कि हमारा देश स्वतंत्र हो , इसके लिए उन्होंने एक नारा दिया, तुम मुझे खून दो - हम तुम्हे आजादी देंगे।

Popular Posts