BREAKING!
  • नेशनल हेल्थ मिशन का पेपर लीक, गिरोह के आठ सदस्य दबोचे, मास्टर माइंड प्रयागराज का
  • बदलते ग्वालियर में आप सभी का सहयोग जरूरी: ऊर्जा मंत्री
  • निगम अधिकारियों ने सुनी आमजन की समस्यायें
  • वार्ड समिति 3 की ज्योति एवं 4 के विवेक बने अध्यक्ष
  • विकास यात्रा में हितग्राहियों को किया हितलाभ का वितरण
  • स्त्री राष्ट्र की आधार शक्ति
  • कार्यों का हिसाब-किताब व विकास की सौगातें लेकर हम आपके गाँव आए हैं : कुशवाह
  • श्रीकृष्ण ने पढ़ाया था सच्ची मित्रता का पाठ, वर्तमान में बदल गयी परिभाषा:घनश्याम शास्त्री
  • मुख्यमंत्री जी बताये विकलांगजनों का कितना विकास कियाः जौहरी
  • विकास यात्रा के दौरान कलेक्टर ने किया विभिन्न शासकीय संस्थाओं का निरीक्षण

Sandhyadesh

ताका-झांकी

शहर के बाजारों एवं व्यवसायिक क्षेत्रों में रात्रिकालीन सफाई में ढ़िलाई न हो – कलेक्टर

28-Nov-22 58
Sandhyadesh

 अंतरविभागीय समन्वय बैठक में दिए निर्देश 

रात्रिकालीन सफाई व्यवस्था में ढ़िलाई मिलने पर कलेक्टर श्री सिंह ने जताई नाराजगी 
ग्वालियर / शहर के बाजारों एवं अन्य व्यवसायिक क्षेत्रों में रात्रिकालीन सफाई नियमित रूप से हो, इसमें किसी भी प्रकार की ढ़िलाई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जिस व्यवसायिक क्षेत्र में रात्रिकाल में सफाई नहीं मिलेगी, वहाँ से संबंधित नगर निगम के अधिकारियो के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। यह बात कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने अंतरविभागीय समन्वय समिति की बैठक में शहर की साफ-सफाई व्यवस्था की समीक्षा के दौरान कही। 
 कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में मौजूद नगर निगम के उपायुक्त से कहा कि शहर की सफाई व्यवस्था से जुड़े अधिकारियों को साफ-तौर पर ताकीद कर दें कि वे अपने क्षेत्र में नियमित रूप से साफ-सफाई कराएँ। उन्होंने कहा सुबह के समय सभी बाजार व व्यवसायिक क्षेत्रों की सड़कों पर कहीं भी कचरा नहीं मिलना चाहिए।  सिंह ने बीती रात महाराज बाड़ा सहित शहर के अन्य बाजारों का औचक निरीक्षण किया था। निरीक्षण के दौरान साफ-सफाई व्यवस्था ठीक न मिलने पर उन्होंने नाराजगी जताई है। उन्होंने महाराज बाड़ा सहित अन्य क्षेत्र की ऐतिहासिक इमारतों पर लाइटिंग व्यवस्था सुदृढ़ करने पर भी बल दिया । 
 बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  आशीष तिवारी व अपर कलेक्टर  एच बी शर्मा सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी व एसडीएम मौजूद थे। 

नामावलियों के पुनरीक्षण कार्य में ढ़िलाई बरतने वाले बीएलओ के खिलाफ कठोर कार्रवाई करें 

 कलेक्टर  कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने निर्वाचक नामावली के पुनरीक्षण कार्य को गंभीरता से लेने पर जोर देते हुए कहा कि यह कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ समय-सीमा में पूर्ण करें। उन्होंने सभी एसडीएम एवं रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो बीएलओ पुनरीक्षण कार्य में ढ़िलाई बरत रहे हैं उन्हें नौकरी से बाहर करने की कार्रवाई की जाए। सभी बीएलओ से इस आशय का प्रमाण-पत्र लें कि उनके क्षेत्र में 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले किसी भी मतदाता का नाम नामावली से छूटा नहीं है। साथ ही त्रुटि सुधार भी हो गए हैं। कलेक्टर ने कहा कि ऐसी स्थिति कदापि निर्मित नहीं होना चाहिए कि किसी परिवार के सदस्य अलग-अलग मतदान केन्द्रों से जुड़े हों। उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि हर बीएलओ को यह पता होना चाहिए कि उनके क्षेत्र में कौन-कौन से घर आते हैं और किस परिवार के मतदाता किसान मतदान केन्द्र से जुड़े हैं। 

एंटी माफिया अभियान में तेजी लाएँ  

 कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने एंटी माफिया अभियान को और तेज करने पर विशेष बल दिया। उन्होंने सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि एंटी माफिया अभियान के तहत जब्ती व बेदखली इत्यादि की कार्रवाई करने के साथ-साथ दोषियों के खिलाफ एफआईआर भी अनिवार्यत: दर्ज कराएं। 

आवासीय पट्टे से कोई भी पात्र आवेदक वंचित न रहे 

 कलेक्टर  सिंह ने धारणा अधिकार अधिनियम एवं मुख्यमंत्री भू-अधिकार आवास योजना के तहत पात्र परिवारों को अभियान बतौर आवासीय पट्टे दिए जाने के निर्देश भी सभी एसडीएम व अन्य राजस्व अधिकारियों को दिए। उन्होंने पट्टे देने की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त की। 
 बैठक में आयुष्मान कार्ड, आंगनबाड़ी निरीक्षण अभियान, खाद वितरण व्यवस्था, किसान सम्मान निधि व सीएम हैल्पलाइन सहित सरकार के अन्य प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की समीक्षा भी की गई।

Popular Posts