BREAKING!
  • नेशनल हेल्थ मिशन का पेपर लीक, गिरोह के आठ सदस्य दबोचे, मास्टर माइंड प्रयागराज का
  • बदलते ग्वालियर में आप सभी का सहयोग जरूरी: ऊर्जा मंत्री
  • निगम अधिकारियों ने सुनी आमजन की समस्यायें
  • वार्ड समिति 3 की ज्योति एवं 4 के विवेक बने अध्यक्ष
  • विकास यात्रा में हितग्राहियों को किया हितलाभ का वितरण
  • स्त्री राष्ट्र की आधार शक्ति
  • कार्यों का हिसाब-किताब व विकास की सौगातें लेकर हम आपके गाँव आए हैं : कुशवाह
  • श्रीकृष्ण ने पढ़ाया था सच्ची मित्रता का पाठ, वर्तमान में बदल गयी परिभाषा:घनश्याम शास्त्री
  • मुख्यमंत्री जी बताये विकलांगजनों का कितना विकास कियाः जौहरी
  • विकास यात्रा के दौरान कलेक्टर ने किया विभिन्न शासकीय संस्थाओं का निरीक्षण

Sandhyadesh

ताका-झांकी

टेकनपुर में 41वीं पुलिस घुड़सवारी चैम्पियनशिप व माउण्टेड ड्यूटी मीट के समापन

26-Nov-22 69
Sandhyadesh

स्पर्धा में दिखा साहस और पराक्रम , विजेता टीम को मिला सम्मान
 ग्वालियर। सीमा सुरक्षा बल अकादमी टेकनपुर में 41वीं अखिल भारतीय पुलिस घुड़सवारी प्रतियोगिता और घुड़सवार पुलिस ड्यूटी मीट. 2022-23 बीएसएफ अकादमी टेकनपुर में 14 से 26 नवम्बर 2022 तक आयोजित हुई। इसका रंगारंग समापन आज मप्र के डीजी जेल अरविंद कुमार के मुख्य आतिथ्य में किया गया ।
Sandhyadesh
इस चैम्पियनशिप में ड्रेसाजए टेण्ट पेगिंग, शो जम्पिंग, इवेंटिंग आदि कुल 35 रोमांचक प्रतिस्पर्धाएँ आयोजित की गयी ।
स्पर्धा के समापन अवसर पर  सर्वप्रथम अकादमी निदेशक सुश्री सोनाली मिश्रा ने  मुख्य अतिथि का अभिनंदन व स्वागत किया। स्पर्धा में स्वागत भाषण निदेशक सोनाली मिश्रा ने दिया। उन्होंने कहा कि  प्रतियोगिता में सभी खिलाडय़िों ने उच्च स्तर का प्रदर्शन, अनुशासन, संयम एवं खेल भावना का उदाहरण देकर सही मायनों में इस आयोजन को सफल बनाने में अपना सहयोग दिया है। उन्होंंने कहा कि  ज्यूरी के सदस्यों का विशेष रूप से अभिवादन किया और कहा कि ज्यूरी के सहयोग से इस प्रतियोगिता को सुचारू रूप से संपादित किया गया हैं । उन्होंने कहा कि बीएसएफ ने इस बार घुडसवारी स्पर्धा को बढावा देने के लिए 11 शिक्षण संस्थानों के 900 से अधिक विद्यार्थियों और लगभग 16 गांव के निवासियों को भी आमंत्रित किया जिन्होंने रोमांच और साहस के इस खेल का भरपूर आनन्द उठाया और खिलाडियों का उत्साह वर्धन किया।उन्होंने आगे कहा कि इस प्रतियोगिता के आयोजन के दौरान हमने अपने बहादुर सीमा प्रहरी शहीद साथी घुड़सवार आरक्षक सुधीर पी. थोराठ को अभ्यास के दौरान इसी मैदान में 13 नवंबर 2022 को खोया । उनकी शहादत का सम्मान करते हुए महानिदेशक सीमा सुरक्षा बल के द्वारा वीर घुड़सवार शहीद सीमा प्रहरी की स्मृति में एक ट्रॉफी  सुधीर पी थोराट मेमोरियल ट्राफी फोर बेस्ट टीम डे्रसाज को अखिल भारतीय पुलिस खेल नियंत्रण बोर्ड को सौंपने का निर्णय लिया है, जो घुड़सवारी के क्षेत्र में उनकी स्मृतियों को हमेशा जीवंत रखेगा।

मुख्य अतिथि महानिदेशक जेल मध्यप्रदेश अरविंद कुमार ने  अपने संबोधन में सभी खिलाडय़िों एवं उनकी टीमों के द्वारा किए गए अच्छे प्रदर्शन को सराहा और आयोजकों व ज्यूरी को सफल व निष्पक्ष प्रतियोगिता आयोजित किए जाने पर बधाई दी। उन्होंने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों की सराहना करते हुए कहा कि सभी खिलाडय़िों ने उत्कृष्ट खेल भावना का उदाहरण पेश करते हुए इस प्रतियोगिता को सफल बनाने में भरपूर सहयोग दिया है ।
    Sandhyadesh
स्पर्धा में तमिलनाडु की महिला घुडसवार पी सुगंधा ने चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता।
इस प्रतियोगिता में 35 स्पर्धाओं में निम्न लिखित टीमों व घुड़ सवारों नेनिम्नलिखित ट्राफियां जीती।

टेंट पेगिंग टीम की जोधपुर चैलेंज ट्राफी पंजाब पुलिस को , सर्वश्रेष्ठ महिला घुड़सवार कान्सटेबल सुगन्या तमिलनाडु पुलिस,माउंटेड पुलिस ड्यूटी मीट चैंपियनशिप दोरजी मेमोरियल ट्रॉफी सीमा सुरक्षा बल को,
सर्वश्रेष्ठ घुड़सवार की मेवाड़ चैलेंज ट्रॉफी इंस्पेक्टर सुमेर सिंह सीमा सुरक्षा बल को ,बेस्ट हॉर्स की चेतक ट्राफी हॉर्स जेनी, राजस्थान पुलिस को , रनर अप हैदराबाद ट्रॉफी सीमा सुरक्षा बल को , ओवर ऑल बेस्ट टीम की छत्रपति ट्राफी आई टी बी पी को प्रदान की गई।
इस अवसर पर विशेष अतिथि अपर महानिदेशक आईबी हरीनाथ मिश्रा सहित  सेवानिवृत महानिदेशक एस. कृष्णमूर्ति एवं रामाकृष्णन एवं निर्णायक समिति के अन्य सम्मानित सदस्य गणों को निदेशक अकादमी  सुश्री सोनाली मिश्रा , आईजी जे एस ओबेरॉय , महानिरीक्षक बीएसएफ संजय सिंह गहलोत  आदि को सम्मानित किया गया।  इस चैम्पियनशिप में 18 टीमेंजिनमें 4 केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलए 12 राज्य पुलिस बलए 1 केंन्द्र शासित प्रदेश एवं 1 प्रशिक्षण संस्थान की टीम शामिल रहीं। असम पुलिसए असम राइफलए बिहार पुलिसए सीमा सुरक्षा बलए चंडीगढ़ पुलिस, दिल्ली पुलिस, गुजरात पुलिस, हरियाणा पुलिस, आई टी बी पी, कर्नाटक पुलिस, मध्य प्रदेश पुलिस, पंजाब पुलिस, सशस्त्र सीमा बल, उत्तर प्रदेश पुलिस, पश्चिम बंगाल पुलिस, राजस्थान पुलिस व तमिलनाडु पुलिस के लगभग 300 घोडे और 650 से ज्यादा अश्व सवार एवं सहायकों 04महिलाओं  ने हिस्सा लिया।  इस चैम्पियनशिप में ड्रेसाज, टेण्ट पेगिंग, शो जम्पिंग, इवेंटिंग आदि कुल 35 रोमांचक प्रतिस्पर्धाएँ आयोजित की गयी ।
 

Popular Posts