डूबते सराफा व्यापारी, 4 और दीवालिया हुये

2017-12-06 17:56:21 686
Sandhya Desh


व्यापारियों की नीयत खराब होना जारी है। अब आटा कारोबारी के क्रम में सराफे लश्कर के आधा दर्जन कारोबारी भी नीयत खराब होने से व्यापारियों का पैसा दबाकर बैठ गये हैं। उन्हीं की तर्ज पर सराफा के 4 बड़े व्यापारी और भागने की फिराक में है।
पेट्रोल पंप कारोबारी दीपक सचेती ने तो अजीत जैन सर्राफ के उपर 28 लाख की राशि दबाने व फर्जी चैक देने का आरोप भी लगाकर थाने में तहरीर दी हैं। इस तहरीर के बाद सराफे के कारोबारियों में हड़कंप है।  वहीं अजीत जैन के पुत्र विमल जैन उर्फ बिल्लू ने अपने पिता से भी संबंध विच्छेद की विज्ञप्ति छपवा ली है।
कुल मिलाकर ग्वालियर के व्यापारी अब लोगों का पैसा दबाने का कारोबार कर रहे है। इसके बाद अब सराफे में रूपये पैसे का कारोबार कम हो गया हैं, जो लोग हुण्डी व उधार का काम करते है उन्होंने भी इससे अपना पल्लू झाड़ लिया हैं। वह रूपये उधार देने की बजाय अपनी वसूली में लग गये हैं। लडडू वाला काम्पलेक्स का बड़ा जैन सराफा कारोबारी भी अपने पिता की तर्ज पर अब अपने आपको दीवालिया घोषित कर सकता है और इसकी व्यूहरचना भी हो चुकी हैं। 4 अन्य सराफा व्यापारी भी दीवालिया होने की तैयारी कर रहे हैं। 

Latest Updates