Recent Posts

ताका-झांकी

फूलसिंह बिगाड सकते हैं कांग्रेसी समीकरण

2018-09-18 16:37:28 629
Sandhya Desh

फूलसिंह बरैया यानी बसंद (बहुजन संघर्ष दल) के सुप्रीमो कांग्रेस का समीकरण मध्यप्रदेश में बिगाड सकते हैं। भाजपा भी अब कांग्रेस की रणनीति की तरह ही बसंद का सहारा ले सकती है। 
ज्ञातव्य है कि इन दिनों प्रदेश की सत्ता से भाजपा को बाहर करने के लिए कांग्रेस ने बसपा कार्ड खेला है और बसपा से उसका चुनावी समझौता लगभग फाइनल स्टेज पर है, जिससे कांग्रेस अपने वोट बैंक में दो से पांच प्रतिशत की बढोत्तरी कर भाजपा को सत्ता से बाहर कर सकती है। इस कांग्रेस व बसपा के समझौते से भाजपाई आला कमान चिंतित है। 
भाजपाई सूत्र बताते हैं कि भाजपा भी अब कांग्रेस और बसपा के संभावित गठबंधन को देखते हुए अब नया पैंतरा खेल सकती है। इसके तहत भाजपा प्रदेश में बसपा को कमजोर करने वाली बसंद से तालमेल बैठा सकती है। बसंद सुप्रीमो फूलसिंह बरैया पर भाजपाईयों ने डोरे डालने शुरू कर दिये हैं। बीते दिवस बसंद सुप्रीमो से भाजपा आला कमान के एक प्रमुख सदस्य ने इसी तारतम्य में गोपनीय मुलाकात करने की कोशिश भी की। हालांकि अभी बसंद की ओर से भाजपाई संपर्क की कोई पहल नहीं है, लेकिन भाजपा अपना किला बचाने के लिए बसंद कार्ड खेल सकती है। ताकि बसपा के वोट बैंक को ध्वस्त किया जा सके, और यह वोट बैंक कहीं कांग्रेस को फायदा न पहुंचा सके। 
विनय अग्रवाल 
"लेखक मप्र के वरिष्ठ पत्रकार हैं और विभिन्न विषयों पर बेबाक कलम के लिए उनकी पहचान है, उनका एक कॉलम "दरबारीलाल" इन दिनों प्रदेश का सबसे चर्चित कॉलम है।" 

Latest Updates