Recent Posts

ताका-झांकी

एलएनआईपीई की वार्षिक पत्रिका अभिव्यक्ति का विमोचन

2018-09-14 18:27:06 88
Sandhya Desh

 
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में आज हिन्दी सप्ताह का शुभारंभ प्रो. दिलीप कुमार डुरेहा (कुलपति, एलएनआईपीई) के मुख्य आतिथ्य में हुआ। समारोह में विशिष्ट अतिथि प्रो. विवेक पांडे (कुलसचिव एलएनआईपीई) रहें। समारोह के आरंभ में एम.पी. सिंह (ज्वांइट रजिस्ट्रार, एलएनआईपीई) ने कुलपति प्रो. डुरेहा व कुलसचिव प्रो. पांडे का स्वागत किया।
स्वागत समारोह के उपरांत कुलपति प्रो. डुरेहा का संबोधन हुआ जिसमें उन्होने सभी को हिन्दी दिवस की बधाई दी और कहा कि हम चाहेंगे आप सभी हिन्दी दिवस के दौरान आयोजित प्रतियोगिताओं मेंं अपनी प्रतिभागिता दर्ज कराए। हमने युवा कार्यक्रम व खेल मंत्रालय, भारत सरकार की तर्ज पर हिन्दी के सहज व सरल स्वरूप को अपनाया हैं। हमारा संस्थान राजभाषा हिन्दी को बढ़ावा देने के लिए पूर्णतः समर्पित हैं और हमारे संस्थान में सभी पत्राचार, सूचना, आदेश द्विभाषी होते हैं। हमारे सभी कार्यालय सभी तरह के पत्राचार अधिकांश हिन्दी में कर रहे हैं। हम चाहेंगे कि आप सभी हमारी राजभाषा हिन्दी में कार्य करने के लिए और लोगों की भी प्रोत्साहित करें। हम सभी यह देखते हैं कि हमारे प्रधानमंत्री देश-विदेश के सभी मंचों पर अपना संबोधन हिन्दी में देते हैं मैं भी उनका अनुसरण करता हुं और संस्थान परिसर या बाहर सभी मंचों पर अधिकांशतः हिन्दी का ही प्रयोग करता हुं। कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी को हिन्दी दिवस की आगामी प्रतियोगिताओं के लिए शुभकामनाएं भी दी। कुलपति प्रो. डुरेहा ने इसके उपरांत सभी संस्थान सदस्यों के साथ संस्थान की वार्षिक पत्रिका अभिव्यक्ति का विमोचन किया और कहा हिन्दी की महत्वता को ध्यान में रखते हुए हमने इस वर्ष संस्थान की तीसरे संस्करण को प्रकाशित करने का निर्णय लिया था। हमें प्रसन्नता हैं कि आज हम इस वार्षिक पत्रिका का विमोचन आपके समक्ष कर रहे। 
समारोह के अंत में कुलपति प्रो. डुरेहा ने स्पोर्ट्स साइकोलॉजी एसोसिएसन ऑफ इंडिया के वेबसाइट का शुभारंभ किया और सभी को वेबसाइट की आवश्यक्ता व विशेषताओं से परिचित कराया। कुलपति प्रो. डुरेहा ने सभी को बताया कि यह वेबसाइट देश के सभी स्पोर्ट्स साइकोलॉजिस्ट को एक मंच पर लाने का प्रयास हैं और हमें आशा हैं कि यह वेबसाइट भारत के सभी स्पोर्ट्स साइकोलॉजिस्ट को इस क्षेत्र के विकास व विस्तार में सहायता करेगा। संस्थान में हिन्दी सप्ताह कार्यक्रम के अनुसार संस्थान के आचार्यों, प्रशासनिक अधिकारियों, छात्रों व कर्मचारियों के लिए आज कविता लेखन प्रतियोगिता व आगामी दिवसों में हिन्दी में विभिन्न प्रतियोगिताओं व कार्यशालाओं का आयोजन किया जाएगा।

Latest Updates