Recent Posts

ताका-झांकी

तीन दिवसीय मध्यप्रदेश नाट्य समारोह ग्वालियर में

2018-09-14 17:57:38 85
Sandhya Desh


ग्वालियर । राज्य शासन के संस्कृति विभाग द्वारा संस्कार भारती संस्था के सहयोग से ग्वालियर में तीन दिवसीय "मध्यप्रदेश नाट्य समारोह" आयोजित किया जा रहा है। यह समारोह 15 सितम्बर के सायंकाल 7 बजे यहाँ जीवाजी विश्वविद्यालय के गालव सभागार में शुरू होगा। तीन दिनी समारोह में हर शाम 7 बजे नाटकों का मंचन होगा। साथ ही रंग विमर्श का आयोजन भी होगा। नाटक नि:शुल्क देखे जा सकेंगे। 
नाट्य समारोह का शुभारंभ 15 सितम्बर को सायंकाल 7 बजे गालव सभागार में संस्कार भारती के अखिल भारतीय सह संगठन मंत्री अमीरचन्द एवं संरक्षक संस्कार भारती मध्य भारत  शैलेन्द्र प्रधान की उपस्थिति में होगा। 

इन नाटकों का होगा मंचन 
मध्यप्रदेश नाट्य समारोह में 15 सितम्बर को सायंकाल 7 बजे "जंगल में खुलने वाली खिड़की" का मंचन होगा। "रंगायन" भोपाल के कलाकार इस नाटक का मंचन करेंगे। नाटक के लेखक नाटक के लेखक जितेन्द्र भाटिया व निर्देशक प्रशांत खिड़वरकर हैं। इसी क्रम में 16 सितम्बर को सायंकाल परिस्कृति उज्जैन के कलाकारों द्वारा "कतरा-कतरा जिंदगी" नाटक का मंचन किया जायेगा। इस नाटक का आलेख लेखन व निर्देशन सतीश दबे का है। नाट्य समारोह के अंतिम दिन यानि 17 सितम्बर को सायंकाल आदि शंकराचार्य पर केन्द्रित नाटक महापरिव्राजक का मंचन होगा। "रंग कुटुम्ब" ग्वालियर द्वारा यह प्रस्तुति दी जायेगी। नाट्य रूपांतरण आलोक शर्मा और निर्देशक जयेश भार्गव-सुश्री सरिता सोनी का है। 

कलावीथिका में होगा रंग विमर्श 
रंग विमर्श का आयोजन 16 सितम्बर को प्रात: 10 बजे  यहाँ तानसेन कलावीथिका में होगा। इसमें जाने-माने कलाविद् आमंत्रित किए गए हैं, जिनमें अमीरचंद, रविशंकर खरे, राजीव वर्मा, श्रीपाद जोशी, संजय उपाध्याय व डॉ. योगेन्द्र चौबे शामिल हैं। 

Latest Updates