Recent Posts

ताका-झांकी

यशोधरा की नाराजगी पड़ सकती है भारी

2018-09-08 08:23:08 497
Sandhya Desh


आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
चंबल अंचल में सिंधिया राजघराने की यशोधरा का मैजिक किसी से छिपा नहीं। अगर वह नाराज रहती है तो पार्टी को बड़ा नुकसान हो सकता है, क्योंकि जनता में उनका जादू किसी से छिपा नहीं। जनता में उनकी लोकप्रियता इतनी है कि लोग उनके देखने और सुनने के लिए आतुर रहते है।आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
शिवराज सरकार में स्पोटर्स मिनीस्टर यशोधरा राजे गत रोज भोपाल में प्रदेश कार्यसमिति के दौरान मंच पर भड़क गई थी। उनकी नाराजगी इसलिए थी, क्योंकि राजमाता की तस्वीर नहीं लगाई थी। इस पर उन्होंने खुले तौर पर प्रदेश भाजपा को जहां जमकर लताड़ लगाई, वहीं बैठक छोड़कर चली भी गई। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com यशोधरा का कहना था कि जिन राजमाता ने पार्टी को खड़ा करने के लिए अपना सर्वस्व निछावर कर दिया आज उनकी तस्वीर तक को जगह नहीं दी जा रही। हम आपको बताते चले कि यह सही है कि राजमाता पार्टी के संस्थापक सदस्यों की एक तरह से रीढ़ थी। उन्हीं के विचारों से पार्टी ने जन्म लिया और आज पूरे भारत में भगवा लहरा रहा है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
यशोधरा की नाराजगी पर दिग्गजों की मिलीजुली राय रही। परंतु अगर यशोधरा की नाराजगी को नहीं टाला गया तो पार्टी को नुकसान होना स्वाभाविक है, क्योंकि उनका जादू जनता के सिर चढ़कर बोलता है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com वैसे भी यशोधरा उद्योग विभाग छीने के बाद और पार्टी में लगातार उपेक्षा से पूर्व से ही नाराज चली आ रही है। उन्होंने उपचुनावों में भी भारी मन से प्रचार किया था। जिसके कारण पार्टी को हार का सामना भी करना पड़ था। अब अगर यशोधरा को पार्टी ने तबज्जों नहीं दी तो चंबल अंचल की सीटों पर इसका असर साफ दिखाई देगा। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates