Recent Posts

ताका-झांकी

पंडित जी को बीटो, कुर्सी बची!

2018-08-12 08:39:36 501
Sandhya Desh


आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
अंततः पंडित जी की कुर्सी फिलहाल बच गई है। नही तो पिछले दिनों अचानक ही उनकी कुर्सी जाने के कयासों ने बल पकड़ लिया था। इसके बाद पंडित जी दौड़े दौड़े भोपाल पहुंच गये थे और आकाओं के आगे हाजिरी लगा डाली थी। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
पंडित जी सबसे निष्क्रिय भाजपा जिलाध्यक्षों की सूची में टॉप पर दर्ज है। परंतु भाजपा के दिग्गज नेता के खास और करीबी है। जिसके कारण ही उन्हें जिला भाजपा की कमान सौंपी गई थी। इससे पहले भी उन्हें कमान मिली थी, परंतु तुरंत छीन ली गई थी। जब हुई अपनी किरकिरी से क्षुब्ध पंडित जी इस बार अपनी भक्ति में कोई कोरकसर ना छोड़ जिला भाजपा के मालिक बनने में कामयाब रहे। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
लेकिन चुनावों की दस्तक के बीच उन्हें पार्टी ने निष्क्रिय जिलाध्यक्षों की सूची में डाल दिया और उनके बदले जाने की अटकलें गर्मा गई, परंतु भोपाल दौड़ कर वह अपनी कुर्सी अस्थाई रूप से बचाने में सफल हो गये है। खबर है कि उन्हें उनके प्रभु ने भोपाल हाईकमान से अभी बीटो दिलवा दिया है। देखने है यह बीटो कब तक लागू रहेगा। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates