बसपा के सहारे सियासी वैतरणी पार करने की आस

2018-07-16 08:19:35 183
Sandhya Desh


आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर सभी पार्टियां कमर कसने लगी हैं और जीत के लिए जोड़-तोड़, गठजोड़ का फंडा भी अपना रही हैं, जिसके चलते सत्ता का वनवास काट रही कांग्रेस मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में दलितों को लुभाने बसपा से हाथ मिलाने की तैयारी कर रही है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
इन तीनों राज्यों में इस साल के आखिर में विधानसभा चुनाव होने हैं। राहुल गांधी ने इन तीनों राज्यों के पार्टी प्रभारियों और प्रदेश अध्यक्षों के साथ बैठक की जिसमें बसपा के साथ गठबंधन के अलावा संगठन, चुनाव प्रचार की तैयारियों और टिकटों के आवंटन को लेकर चर्चा हुई। बैठक में मौजूद पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने मीडिया को बताया कि तीनों राज्यों में बसपा के साथ गठबंधन को लेकर पार्टी में सहमति है। उन्होंने पार्टी नेताओं से कहा है कि जमीनी ब्यौरा हासिल करें, बसपा की क्या स्थिति है और सीटों के तालमेल में सही सूरत क्या होगी। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
उन्होंने कहा कि तीनों राज्यों में संगठन की स्थिति, टिकटों के आवंटन और चुनाव प्रचार की तैयारियों को लेकर भी चर्चा हुई। सूत्रों के मुताबिक मध्य प्रदेश में बसपा के साथ बातचीत पिछले कुछ महीने से चल रही है, लेकिन सीटों के तालमेल को लेकर सहमति नहीं बन पा रही है। चर्चा के दौरान मौजूद रहे एक अन्य नेता ने बताया, संसद सत्र के बाद राहुल गांधी के चुनावी कार्यक्रम इन तीनों राज्यों में जोरशोर से शुरू हो जाएंगे। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates