Recent Posts

ताका-झांकी

ईवीएम से वोट डालने और वीवीपैट की जानकारी देने गाँव-गाँव व वार्ड-वार्ड पहुँचेगा रथ

2018-07-12 23:16:58 81
Sandhya Desh

कलेक्टर ने हरी झण्डी दिखाकर मतदाता जागरूकता रथ को रवाना किया 
ग्वालियर  ।  ईव्हीएम (इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन) से वोट डालने की प्रक्रिया क्या है और अपनी पसंद के उम्मीदवार को दिए गए वोट का सत्यापन कैसे करें। मतदान प्रक्रिया से संबंधित ऐसी समस्त जानकारी गाँव-गाँव और शहरों के वार्ड-वार्ड में बताई जायेगी। राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा मतदाताओं को जागरूक करने के लिये विशेष प्रचार रथ तैयार कराया है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी  अशोक कुमार वर्मा एवं जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी  शिवम वर्मा ने गुरूवार को कलेक्ट्रेट से मतदाता जागरूकता रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। 
मतदाता जागरूकता रथ से प्रचार-प्रसार के लिये कैलेण्डर तैयार किया गया है। प्रथम चरण में यह रथ जिले के विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र-14 ग्वालियर ग्रामीण में पहुँचकर ग्रामीणों को मतदान प्रक्रिया से अवगत करायेगा। पहले दिन यह रथ पुरानी छावनी सहित समीपवर्ती गाँवों में पहुँचा। प्रचार रथ में मतदान प्रक्रिया का डेमो करने के लिये ईवीएम व वीवीपैट (वोटर वैरीफाइड पेपर ऑडिट ट्रायल) रखे हैं। साथ ही एलईडी स्क्रीन भी लगी है। जिससे मतदान प्रक्रिया की जानकारी दी जा रही है। 
कलेक्टर ने भीड़ में से राजेश्वरी को बुलाकर डलवाया वोट 
मतदाता जागरूकता रथ को रवाना करने से पहले कलेक्ट्रेट में ईवीएम से वोट डालने का डेमो भी कराया गया। कलेक्टर  अशोक कुमार वर्मा ने जागरूकता रथ पर डेमो के लिये रखी ईवीएम से स्वयं वोट डालकर देखा। साथ ही कलेक्ट्रेट में मौजूद जन समूह में से महिलाओं से डेमो ईवीएम से वोट डालने को कहा। भीड़ में से सबसे पहले नाका चंद्रबदनी निवासी श्रीमती राजेश्वरी आईं और उन्होंने वोट डाला। इसके बाद कलेक्टर ने उन्हें वीवीपैट में दिखाकर बताया कि आपने जिस उम्मीदवार के लिये बटन दबाया है उसी को वोट मिला है। इसके बाद श्रीमती सोनी राजौरिया व गीता सहित अन्य महिलाओं ने भी ईवीएम से वोट डाले और वीवीपैट में पर्ची देखकर अपने वोट का सत्यापन भी किया। इस अवसर पर उप जिला निर्वाचन अधिकारी  राघवेन्द्र पाण्डेय व राज्य स्तरीय मास्टर ट्रेनर्स  बी जी तेलंग मौजूद थे। 
ईवीएम से ऐसे डालें वोट और वीवीपैट में देखकर करें सत्यापन  
जागरूकता रथ में सरल भाषा में प्रदर्शित किया गया है कि जब आप मतदान केन्द्र में प्रवेश करेंगे, तो पीठासीन अधिकारी बैलेट यूनिट को तैयार करेंगे। मतदाता को बैलेट यूनिट में अपने पसंद के प्रत्याशी के नाम और चुनाव चिन्ह के सामने वाले नीले बटन को दबाना होगा। इससे चुनाव चिन्ह के सामने वाली लाल लाईट जल उठेगी। वीवीपैट में प्रिंटर से एक पर्ची निलकेगी, जिसमें पसंद के प्रत्याशी का सरल क्रमांक, नाम और चुनाव चिन्ह अंकित होगा। बैलेट पर्ची सिर्फ 7 सैकेण्ड तक दिखेगी। इसके बाद प्रिंटर के नीचे रखे ड्रॉप बॉक्स में गिर जायेगी। 
रथ पर लिखे हैं ये स्लोगन 
न जाति पे न धर्म पे बटन दबेगा कर्म पे । जो बांटे दारू, साड़ी, नोट उनको कभी न देंगे वोट। लोकतंत्र का यह आधार वोट न कोई हो बेकार। डालें वोट बूथ पर जाएं लोकतंत्र का पर्व मनाएं। बहकावे में भी न आना सोच-समझकर बटन दबाना। वोट हमारा है अधिकार करें नहीं इसको बेकार। 

Latest Updates