Recent Posts

ताका-झांकी

महिला पतंजलि योग समिति का दो दिवसीय नि:शुल्क शिविर आज से

2018-07-10 19:50:36 132
Sandhya Desh


ग्वालियर। महिला पतंजलि योग समिति ग्वालियर शाखा के तत्वाधान में दो दिवसीय एक निशुल्क योग चिकित्सा एवं प्राणायाम शिविर का आयोजन आज बुधवार से नवीन पार्क कांच मिल रोड पाताली हनुमान मंदिर के पास किया जाएगा। दो दिवसीय नि:शुल्क योग चिकित्सा एवं प्राणायाम शिविर में कई असाध्य रोगों के बारे में जानकारी देकर उनके निदान के बारे में योगासन एवं प्राणायाम के माध्यम से बतलाया जाएगा। इस अवसर एक महिला सम्मेलन का भी आयोजन किया जाएगा यह जानकारी मंगलवार को स्वामी रामदेव महाराज की शिष्या साध्वी देवादिति ने पत्रकारों को दी। 
 मंगलवार की शाम महिला पतंजलि योग समिति के जिला कार्यालय लक्ष्मी बाई कॉलोनी में पत्रकारों से चर्चा करते हुए साध्वी देवादिति ने बताया कि महिला पतंजलि पीठ हरिद्वार के सानिध्य में महिला पतंजलि योग समिति ग्वालियर द्वारा दो दिवसीय निशुल्क योग चिकित्सा एवं प्राणायाम शिविर का आयोजन नवीन पार्क कांच मिल रोड पर प्रात: 5.30 बजे से 7.30 बजे तक किया जाएगा इस योग शिविर में कई असाध्य रोगों के बारे में जानकारी देकर उनका निदान स्वामी रामदेव महाराज के योगासन एवं प्राणायाम के माध्यम से किया जाएगा उन्होंने बताया इस शिविर में मधुमेह मोटापा हृदय रोग ब्लड प्रेशर सर्दी-जुकाम एलर्जी अस्थमा दमा जोड़ों का दर्द मानसिक परेशानी जैसी समस्याओं का निवारण किया जाएगा। उन्होंने बताया कि शिविर में बच्चों की पढ़ाई में एकाग्रता स्मरण शक्ति एवं लंबाई बढ़ाने के लिए भी विशेष योग्य अभ्यास सिखाए जाएंगे देवादिति ने बताया इस अवसर पर एक महिला सम्मेलन का भी आयोजन किया गया है। और यह महिला सम्मेलन विद्या भारती ऊषाकिरण पैलेस के पास आयोजित किया जाएगा। शिविर में आने वाले इच्छक पुरूष कुर्ता पाजामा पहनकर एवं महिलाएं सलवार कुर्ता पहनकर शिविर में शामिल हो सकते हैं। पत्रकार वार्ता में महिला पतंजलि योग समिति की राज्य प्रभारी श्रीमती सुमन अग्रवाल महामंत्री स्वाभिमान न्यास एवं कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती गायत्री शर्मा अध्यक्ष महिला पतंजलि योग समिति श्रीमती नेहा पटेल, अमिता त्रिपाठी, गीता उपाध्याय, विभा यादव, स्नेहलता गुप्ता, रेखा पवैया, वेद प्रकाश रजावत, दिनेश शुक्ला उपस्थित थे। 
सहायक प्राध्यापक की नौकरी छोडक़र लिया सन्यास
सहायक प्राध्यापक की नौकरी छोडक़र योग के माध्यम से आमजन की समस्याओं और बीमारियों के निदान के लिए पतंजलि योगपीठ हरिद्वार से जुड़ी साध्वी देवादिति का कहना है कि  दूसरों के लिए जीना ही मेरा मुख्य लक्ष्य है। मैं सहायक प्राध्यापक के पद पर कार्यरत थीं और मेरा 6 लाख रुपए से ज्यादा का पैकेज था। लेकिन मैंने नौकरी छोडक़र सन्यास का लक्ष्य चुना और दूसरों की सेवा के लिए जीना ही अपना मकसद समझा और इसी को लेकर मैं पतंजलि योगपीठ हरिद्वारा से जुड़ी और अब मेरा लक्ष्य अध्यात्म की प्राप्ति है। साध्वी देवादिति का मानना है कि कई साधु सन्यासियों ने सन्यास को कलंकित किया है। लेकिन कुछ अच्छे लोग भी हैं जिस कारण आज भी सन्यास और सन्यासी अपने लक्ष्य की प्राप्ति में लगे हुए हैं। 

Latest Updates