Recent Posts

ताका-झांकी

एसओ सहित चार जवान लाइन अटैच , पुलिस कप्तान की कार्रवाई

2018-06-17 20:05:16 97
Sandhya Desh

ग्वालियर। पुलिस अधीक्षक ने दो अलग अलग शिकायतों पर जांच के बाद एक थानेदार सहित चार सिपाहियों को लाइन अटैच करने के आदेश दिये हैं। जिन कर्मियों पर पुलिस कप्तान की गाज गिरी है उनमें भितरवार की एसओ प्रतिभा श्रीवास्तव और जनकगंज के चार सिपाही है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने अब अपने कर्मियों पर शिकंजा कसना शुरू किया है। इसी कडी में लापरवाह और काम में निष्क्रियता बरतने वाले कर्मियों पर पुलिस कप्तान ने गाज गिराना शुरू कर दी है। भितरवार की एसओ प्रतिभा श्रीवास्तव ने एक वांटेंड को पकड कर थाने में बैठाया और उसे गुपचुप तरीके से छोड दिया। इसकी शिकायत पुलिस कप्तान को मिली और उन्होंने तत्काल कार्रवाई करते हुए प्रतिभा श्रीवास्तव को लाइन अटैच कर दिया। उधर जनकगंज थाने के सिपाही रूप सिंह, बदन सिंह , मिथुन गुर्जर और शिशिर सक्सैना ने एक ट्रक चालक परविंदर को एंटी में घुसने पर पीछा कर मारपीट कर बेहोश कर दिया। इसकी शिकायत मिलते ही चारों सिपाहियों को लाइन अटैच कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन का कहना है कि दोनों मामलों में उन्हें शिकायतें मिली थी और उन्होंने प्रथम दृष्टया दोनों मामलों में कर्मियों को जिम्मेदार पाया और उन्हें अटैच कर दिया। इसके साथ ही मामले की जांच की जा रही है। 
खाने के पैसे मांगने पर ढाबा मैनेजर के साथ मारपीट 
ग्वालियर। खाने के पैसे मागने पर चार युवकों ने ढाबे के मैनेजर और कर्मचारियों के साथ मारपीट कर दी। इतना ही नहीं उन्हें बचाने जब पुलिस कर्मी पहुंचे तो युवकों ने उनके साथ भी अभद्रता कर दी। गिरवाई थाना पुलिस ने घेराबंदी कर चारों युवकों को पकड लिया है। 
पुलिस के अनुसार बेला की बाबडी के पास बॉबी ढाबा है। इस ढाबे पर संतोष वर्मा मैनेजर है। रविवार तडके लगभग तीन बजे चार युवक खाना खाने पहुंचे। खाने के बाद वह कैशियर  के पास काउंटर पर पहुंचे और बिना पैसे दिए चल दिये। कैशियर ने जब उनसे पैसे मांगे तो वह चारों उसे धमका कर जाने लगे। इसकी शिकायत कैशियर ने मैनेजर संतोष वर्मा से की। जब मैनेजर ने युवकों से पैसे देने को कहा तो चारों युवकों ने मैनेजर से मारपीट करना शुरू कर दी। उन्हें बचाने जब स्टॉफ के अन्य कर्मचारी आए तो युवकों ने उन्हें भी नहीं छोडा। मारपीट हंगामे की सूचना पुलिस को दी। मौके पर पहुंची पुलिस की एफआरवी के साथ भी युवकों ने धक्का मुक्की कर दी। बाद में पुलिस ने घेराबंदी कर चारों युवकों धर्मवीर गुर्जर, रविकांत शर्मा, अतुल और दीनदयाल शर्मा के खिलाफ मारपीट की धाराओं में मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है। 
मोबाइल दुकानदार से धोखाधडी करने वाले व्यापारी के खिलाफ मामला दर्ज 
ग्वालियर। मोबाइल फोन में तकनीकी गडबडी बताकर वापस मंगाने उसके बाद ना तो मोबाइल भेजने और ना ही पैसे वापस करने वाले दिल्ली के एक मोबाइल कंपनी एडवांटेज प्राइवेट लिमिटेड के संचालक के खिलाफ धोखाधडी की धाराओं में मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार शारदा बिहार में रहने वाले अमित पचौरी की राजीव प्लाजा में मोबाइल शॉप है। वह दिल्ली की एडवांटेज प्राइवेट लिमिटेड से मोबाइल मंगाते हैं। वर्ष २०१७ में भी अमित ने कंपनी से १३५ ओफो मोबाइल मंगवाए। मोबाइल आने के दो दिन बाद ही मोबाइल पर मैनेजर राजीव भाटिया का कॉल आया । राजीव ने उन्हें बताया कि जो मोबाइल उन्हें भेजे हैं उसमें तकनीकी खराबी है। इसलिए वह उन मोबाइलों को वापस भेज दें। इस पर अमित ने दो बार में ६७ और ६८ मोबाइल भेज दिये। इसके बाद से वह राजीव भाटिया से लगातार संपर्क करते रहे हैं लेकिन ना तो वह मोबाइल वापस कर रहे हैं और ना ही उसके पैसे दस लाख ५५ हजार १०९ रूपए। इसकी शिकायत थक हार कर अमित ने इंदरगंज थाना पुलिस को की। पुलिस ने जांच के बाद आरोपी राजीव भाटिया के खिलाफ मामला दर्ज कर पुलिस पार्टी को दिल्ली भेजा है। 

Latest Updates