Recent Posts

ताका-झांकी

वीरांगना लक्ष्मीबाई दो दिवसीय बलिदान मेला 17 से , राज्यपाल आनंदी वेन पटेल होंगी मुख्य अतिथि

2018-06-14 18:25:04 176
Sandhya Desh

वर्ष 2016 का वीरांगना सम्मान सुनीता नारायण को , मेरीकॉम भी 17 को आएंगी 
ग्वालियर। ग्वालियर में प्रतिवर्ष की भांति इस वर्ष भी आगामी 17 एवं 18 जून को वीरांगना लक्ष्मीबाई बलिदान मेला आयोजित किया जाएगा। इस मेले में मप्र की राज्यपाल श्रीमती आनंदीवेन पटेल 18 जून को मुख्य अतिथि होंगी। वह 18 जून को 2016 का वीरांगना सम्मान प्रसिद्ध पर्यावरण विद सुनीता नारायण को दिया जाएगा। इस समारोह में 17 जून को विख्यात गायिका अनुराधा पौडवाल भजनों की स्वरांजलि प्रस्तुत करेंगी। वहीं मेले में क्रांतिवीर परिजन सम्मान प्रसिद्ध क्रांतिकारी बटुकेश्वर दत्त की बेटी भारती दत्त बागची को दिया जाएगा। 
उक्त जानकारी आज पत्रकारों को देते हुए मप्र के उच्च शिक्षा मंत्री एवं वीरांगना लक्ष्मीबाई बलिदान मेला के संस्थापक अध्यक्ष जयभान सिंह पवैया ने बताया कि स्वतंत्रता समर की प्रथम वीरांगना झांसी की रानी लक्ष्मीबाई की शहादत की 160 वीं वर्षगांठ पर आयोजित दो दिवसीय बलिदान मेला में पहले दिन 17 जून को सायं साढे पांच बजे झांसी के किले से आयी शहीद ज्योति यात्रा उरवाई किला द्वार पर पहुंचेगी। जहां से वाहन यात्रा के रूप में किलागेट हजीरा होते हुए समाधि पर स्थापित की जाएगी। इसके बाद जरा याद करो कुर्बानी प्रदर्शनी का शुभारंभ होगा। इसमें रानी लक्ष्मीबाई के हस्तचलित शस्त्र भी होंगे। 17 जून को सुबह पडाव से समाधि तक बाल स्केटिंग प्रतियोगिता तथा शहीदी सामान्य ज्ञान स्पर्धा मिसहिल स्कूल के सभागार में होगी। शाम को प्रख्यात मुक्केबाज पूर्व ओलंम्पिक स्वर्ण विजेता श्रीमती मेरीकाम 2015 का सम्मान ग्रहण करेंगी। इस सम्मान में दो लाख रूपए नगद और प्रशस्ति पत्र दिया जाता है। 
१८ जून को वीरांगना की समाधि पर दीपदान के बाद  जीवंत महानाटय खूब लडी मर्दानी का मंचन होगा। इसमें 125 पात्र एवं जीवित घोडे, ऊंट, शामिल होंगे। इसके पश्चात वीरांगना सम्मान राज्यपाल श्रीमती आनंदीवेन पटेल प्रदान करेंगी। 
बलिदान मेला का भूमिपूजन कल 15 जून को साढे पांच बजे समाधि के समक्ष मैदान पर किया जाएगा। भूमि पूजन में दंदरौआ मंदिर के महंत रामदास महाराज प्रमुख संत एवं राज्य सभा सांसद प्रभात झा सामाजिक धार्मिक संगठनों के प्रतिनिधि मौजूद रहेंगे। पत्रकार वार्ता में नगर निगम के सभापति राकेश माहौर, डॉ. हरीमोहन पुरोहित, पूर्व सभापति बृजेन्द्र सिंह जादौन, जीडीए के अध्यक्ष अभय चौधरी, राकेश खुरासिया, कनवर मंगलानी उदयभान सिंह पवैया आदि मौजूद थे। 

Latest Updates