Recent Posts

ताका-झांकी

ये प्रिंस दिग्गजों पर भारी, दादा और पिता से होने लगी तुलना

2018-06-14 09:09:10 498
Sandhya Desh


आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
पूर्व केंद्रीय मंत्री कै. माधवराव सिंधिया के पोते एवं कांग्रेस चुनाव अभियान समिति अध्यक्ष, पूर्व केंद्रीय मंत्री, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के 22 वर्षीय सुपुत्र महाआर्यमन सिंधिया  2011 से ही ग्वालियर एवं गुना संसदीय क्षेत्र के तीनों जिले, गुना, शिवपुरी, अशोकनगर के दौरे पर अनैक गैरराजनीतिक एवं राजनीतिक कार्यक्रमों में आ रहे है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
परन्तु वर्तमान में अपने पिता की तर्ज पर पिछले 9 जून से आर्यमन शिवपुरी, गुना और अशोकनगर में अनेक सामाजिक कार्यक्रमों में सम्मिलित हुए। आमजनों से उनकी समस्याओं के बारे में जानकारियां ली। गली-गली, घर-घर पहुंचकर लोगों से मिले, आदिवासियों के घरों पर भोजन करना, दुकानों पर पहुंचकर व्यापारियों से मुलाकात करना ये आर्यमन सिंधिया की संजीदगी और सादगी को दर्शाता है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com वहीं गुना में कार्यक्रम समाप्ति के बाद आमजनों के साथ फुटबॉल खेलना ऐसे अनेक वाक्ये है, जिनके आधार पर बड़े-बड़े दिग्गज दांतों तले उंगलियां दबाने पर मजबूर हो गए है।आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
कई राजनीतिक पंडितों का मानना है अपने दादा और पिता के समान आर्यमन बहुत संवेदनशील और अपार क्षमताओं से परिपूर्ण है। अगर राजनीति में आए तो उनकी समकालीन पीढ़ी के वे निःसंदेह सर्वश्रेष्ठ राजनेता साबित होंगे। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates