एक कार्ड के माध्यम से मिलेगा अनेक योजनाओं का लाभ : माया सिंह

2018-06-13 20:20:35 209
Sandhya Desh


ग्वालियर । मध्यप्रदेश की नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा है कि गरीबों के कल्याण के लिये प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना प्रारंभ कर एक ऐतिहासिक निर्णय लिया है। इसके तहत असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमिकों का पंजीयन कर उन्हें शासन की 20 से अधिक योजनाओं का सीधा लाभ पहुँचाया जायेगा। किसी भी प्रदेश में गरीबों के हित में इतना बड़ा निर्णय नहीं लिया गया है।
नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने असंगठित श्रमिकों को लाभ देने के लिये शहरी क्षेत्र में आयोजित किए गए विभिन्न कार्यक्रमों में असंगठित श्रमिकों को विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रदान करने के उपरांत आयोजित समारोह में यह बात कही। कार्यक्रम में महापौर श्री विवेक नारायण शेजवलकर, नगर निगम आयुक्त श्री विनोद शर्मा, एमआईसी मेम्बर श्री धर्मेन्द्र राणा सहित क्षेत्रीय पार्षद, जनप्रतिनिधि, विभागीय अधिकारी व बड़ी संख्या में नागरिकगण उपस्थित थे। 
नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि मध्यप्रदेश में असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमिकों का पंजीयन कर मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना के तहत लाभान्वित करने का निर्णय लिया गया है। इसी योजना के तहत हितग्राहियों को लाभ वितरण का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में नगरीय एवं ग्रामीण क्षेत्र में कार्यक्रम आयोजित कर पंजीकृत श्रमिकों को लाभान्वित करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस योजना के तहत असंगठित क्षेत्र में पंजीकृत श्रमिकों को पंजीयन कार्ड प्रदान किया जायेगा। इसके साथ ही लाड़ली लक्ष्मी योजना, मातृ वंदना योजना, कौशल उन्नयन प्रशिक्षण आदि योजनाओं से हितग्राहियों को लाभान्वित किया जायेगा। 
नगरीय विकास मंत्री श्रीमती माया सिंह ने कहा कि असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों को अब 200 रूपए मासिक बिजली बिल देना होगा। श्रमिक परिवार की गर्भवती महिलाओं को प्रसूति सहायता के लिये भी सरकार मदद करेगी। सरकार द्वारा साइकिल रिक्शा, हाथ ठेला चलाने वाले को भी ई-लोडर के लिये स्व-रोजगार योजना के तहत ऋण और अनुदान उपलब्ध कराया जायेगा। सरकार ने निर्णय लिया है कि श्रमिक परिवार के मुखिया की सामान्य मृत्यु पर 2 लाख रूपए तथा दुर्घटना में मृत्यु होने पर 4 लाख रूपए की अनुग्रह सहायता राशि सरकार देगी। इसके साथ ही नि:शुल्क इलाज की सुविधा भी पंजीकृत श्रमिकों के लिये की गई है। 
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए महापौर विवेक नारायण शेजवलकर ने कहा कि असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले पंजीकृत श्रमिकों को शीघ्र ही मुख्यमंत्री जनकल्याण (संबल) योजना का कार्ड प्रदान किया जायेगा। इस योजना के माध्यम से सरकार की 20 से अधिक योजनाओं का सीधा लाभ पहुँचाया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा जनकल्याण के क्षेत्र में मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना लागू करना सरकार का ऐतिहासिक निर्णय है। इससे असंगठित क्षेत्र में कार्य करने वाले श्रमिकों को बेहतर सुविधाएं और सहयोग प्राप्त होगा। 
कार्यक्रम में नगर निगम आयुक्त विनोद शर्मा ने कहा कि जनकल्याण के क्षेत्र में अनेक योजनाएं सरकार द्वारा पूर्व से संचालित हैं। सरकार द्वारा मुख्यमंत्री स्व-रोजगार योजना (संबल) लागू कर अनेक सुविधाओं को एक कार्ड के माध्यम से उपलब्ध कराने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है। इस योजना के लागू होने से पंजीकृत सभी हितग्राहियों को शासन की विभिन्न योजनाओं का सीधा लाभ प्राप्त होगा। विनोद शर्मा ने कहा कि इन योजनाओं का लाभ अधिक से अधिक लोग उठाएं। इसके लिये जरूरी है कि सभी पात्र असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों का पंजीयन हो। जिन लोगों ने अब तक पंजीयन नहीं कराया है, वे तत्काल अपना पंजीयन कराएं, ताकि शासन की विभिन्न योजनाओं का लाभ उन्हें मिल सके। 

नगरीय विकास मंत्री इन कार्यक्रमों में हुईं शामिल 
प्रदेश की नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्रीमती माया सिंह ग्वालियर पूर्व विधानसभा क्षेत्र में आयोजित अल्पना टॉकीज 8 नम्बर जोन, बालक विद्यालय ठाठीपुर, ओफो की बगिया तथा दाल बाजार में आयोजित असंगठित श्रमिकों को हितलाभ वितरण के लिये नगर निगम द्वारा आयोजित कार्यक्रमों में शामिल हुईं। श्रीमती माया सिंह ने इन कार्यक्रमों में लाड़ली लक्ष्मी योजना, मातृ वंदना योजना, पंजीकृत श्रमिकों को प्रमाण-पत्र का वितरण के साथ ही अन्य योजनाओं के तहत हितग्राहियों को हितलाभ का वितरण किया। 

Latest Updates