शहर में बिना रजिस्ट्रेशन के दौड़ रहे ई-रिक्शा

2018-06-12 18:58:52 122
Sandhya Desh


-जगदीश भाटिया-
ग्वालियर। शहर में करीब 100 से अधिक ई रिक्शा  बिना रजिस्ट्रेशन के शहर में दौड़ रहे हैं। ई-रिक्शा का न तो रजिस्ट्रेशन होता है और न ही इनके चालकों के पास ड्राइविंग लाइसेंस। अगर ई-रिक्शा से दुर्घटना में किसी की मौत होती है, तो पीडित परिवार को क्लेम का पैसा भी नहीं मिलेगा। वहीं कोई नियम न होने से यातायात पुलिस भी इनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं पायेगी। 
शहर को प्रदूषण प्रदूषण मुक्त बनाने के लिये ई रिक् शा को चलाने की अनुमति तो दे दी गई इसी के साथ कम्पनियां  भी ग्राहकों को ई रिक्शा के लिये  लोन देकर अपना माल खपा रही है। रही बात पुलिस की तो अभी उसके पास न तो इन रिक्शा चालकों पर कार्यवाही करने का अधिकार है और न ही परिवहन विभाग इनका कुछ बिगाड़ सकता है क्योंकि सरकार ने अभी तक इन ई रिक्शा को लेकर कोई नियम कायदे नहीं बनाये है। इसी बात का फायदा उठाकर ई रिक् शा चालक अपनी मनमानी पर उतर आये है।
यह लोग सवारी के अलावा ई रिक् शा से माल ढुलाई का भी काम बेहिचक कर रहे है। एक्ट न होने से ई-रिक्शा खरीदने के बाद उसका रजिस्ट्रेशन, फिटनेस, परमिट व इंश्योरेंस नहीं करवाया जाता, जबकि दोनों होना जरूरी है। रिक्शा चालक का ड्राइविंग लाइसेंस नहीं बना होता। चालकों का ड्रेस कोड भी निर्धारित नहीं है।  ई-रिक्शा से दुर्घटना होने, शराब पीकर चलाने पर वाहन मालिक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का प्रावधान नहीं है । वहीं ई-रिक्शा मोटर व्हिकल एक्ट केे तहत नहीं आते इसलिए पुलिस इन पर कोई सीधी कार्रवाई नहीं कर सकती।

Latest Updates