राहुल की सभा पर शर्तों से सियासत तेज, 6 जून को होनी है

2018-05-24 08:43:49 144
Sandhya Desh


मंदसौर गोलीकांड की बरसी पर 6 जून को मंदसौर के पिपल्या मंडी में आयोजित कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की सभा को लेकर स्थानीय प्रशासन की शर्तों के अंबार और फिर संशोधित अनुमति जारी करने को लेकर सियासत तेज हो गई है। मप्र कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने इसे राहुल गांधी और किसानों की आवाज दबाने की कोशिश बताया है।आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
प्रशासन की शर्तों को लेकर कमलनाथ ने ये सवाल खड़ा किया है कि भविष्य में अमित शाह और नरेंद्र मोदी की सभाओं को लेकर भी ऐसी ही शर्तें लागू होगी कि नहीं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि 6 जून 2017 को किसान आंदोलन के दौरान किसानों की मौत के बाद राहुल गांधी के मंदसौर प्रवेश और व मृत किसानों के परिजनों से मिलने नहीं दिया था। इस बार भी सरकार ऐसा ही रवैया अपना रही है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
इस घटना के एक वर्ष पूरा होने पर घटना स्थल मंदसौर की पिपल्या मंडी में होने वाली राहुल गांधी की आमसभा और लाखों किसानों की इस अवसर पर एकजुटता, किसान विरोधी शिवराज सरकार को हजम नहीं हो रही है। इसलिए वे इस कार्यक्रम की अनुमति के नाम पर गैरवाजिब शर्तें रखकर राहुल गांधी व किसानों की आवाज को दबाना चाहती है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates