मुख्यमंत्री ने नईगढ़ी सिंचाई परियोजना की रखी आधारशिला

2018-05-23 19:25:19 86
Sandhya Desh


* रीवा में तेन्दूपत्ता संग्राहक सम्मेलन एवं असंगठित मजदूर सम्मेलन
भोपाल । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि बाणसागर परियोजना ने विन्ध्य की तस्वीर बदल दी है। नईगढ़ी सिंचाई परियोजना से उन क्षेत्रों में भी पानी पहुँचेगा जहाँ अब तक सिंचाई की सुविधा नहीं है। अनाज उत्पादन में अब विन्ध्य का किसान पंजाब और हरियाणा को भी पीछे छोड़ देगा। मुख्यमंत्री रीवा जिले के रघुराजगढ़ में तेंदूपत्ता संग्राहक सम्मेलन तथा असंगठित मजदूर सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे। समारोह में उद्योग मंत्री राजेन्द्र शुक्ल भी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री ने 30 हजार से अधिक तेंदूपत्ता संग्राहकों को चरण पादुका, जल पात्र एवं साड़ी का वितरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 677 लाख की लागत से बन रही नईगढ़ी उद्वहन सिंचाई परियोजना की आधार-शिला रखी। इससे 633 गाँवों की 50 हजार हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में सिंचाई की सुविधा मिलेगी। मुख्यमंत्री ने रामपुर हाई स्कूल का हायर सेकण्डरी तथा अमिलकी माध्यमिक शाला का हाई स्कूल में उन्नयन की घोषणा की।मुख्यमंत्री ने कहा कि समर्थन मूल्य पर चना, सरसों तथा मसूर की खरीद अब 31 मई से बढ़ाकर 9 जून तक की जायेगी। यदि आवश्यक हुआ तो गेंहू खरीदी की समय-सीमा भी बढ़ाई जायेगी। समर्थन मूल्य पर अनाज देने वाले किसानों को 10 जून को मुख्यमंत्री कृषक समृद्धि योजना की प्रोत्साहन राशि का वितरण किया जायेगा। सभी पात्र वनवासियों को भू-अधिकार पत्र दिये जायेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि रीवा जिले में असंगठित क्षेत्र के पाँच लाख से अधिक मजदूरों का पंजीयन किया गया है। इन सभी मजदूरों को 13 जून को होने वाले समारोह में विभिन्न हितलाभों का वितरण किया जायेगा। यह समारोह पूरे प्रदेश में आयोजित किये जायेंगे। यह योजना देश की सबसे बड़ी सामाजिक सुरक्षा योजना है। इसके तहत 2.5 एकड़ तक भूमि वाले किसानों, मजदूरों, स्व-सहायता समूहों में कार्य करने वालों तथा छोटे-मोटे व्यवसाय करने वालों को लाभान्वित किया जा रहा है। इस योजना में पंजीकृत मजदूर को आवासीय भूमि का अधिकार-पत्र, प्रधानमंत्री आवास योजना से पक्का मकान, बच्चों को कक्षा एक से कॉलेज तक निःशुल्क शिक्षा तथा कौशल उन्नयन प्रशिक्षण एवं निःशुल्क उपचार सहायता दी जायेगी। पंजीकृत मजदूर परिवार की महिलाओं को गर्भावस्था में 4 हजार तथा प्रसूति के बाद 12 हजार रूपये की सहायता दी जायेगी। इसके साथ बीमा सुरक्षा, अंत्येष्टि सहायता तथा असमय मौत पर आश्रितों को 2 लाख का अनुदान दिया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने समारोह में मेधावी विद्यार्थियों को सम्मानित किया। उन्होंने कन्या पूजन कर बेटियों का सम्मान किया। समारोह में मुख्यमंत्री ने तेंदूपत्ता संग्राहक श्रीमती राजकली कोल तथा रामधारी कोल को अपने हाथों से चरण पादुकाएँ पहनायीं। मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों को विभिन्‍न योजनाओं के हित-लाभों का वितरण किया। मुख्यमंत्री चौहान ने सम्मेलन में मिशन इन्द्रधनुष अभियान के तहत टीकाकरण जागरूकता रथ को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया।समारोह को सांसद जनार्दन मिश्र ने भी संबोधित किया। विधायक गिरीश गौतम ने सिंचाई परियोजना की सौगात के लिये मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। समारोह में विधायक दिव्यराज सिंह, उपाध्यक्ष जिला पंचायत श्रीमती विभा पटेल, पूर्व विधायक लक्ष्मण तिवारी तथा नागेन्द्र सिंह, अखण्ड प्रताप सिंह, विन्ध्य विकास प्राधिकरण की उपाध्यक्ष श्रीमती विमलेश मिश्रा, विद्याप्रकाश श्रीवास्तव सहित अन्य जन-प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Latest Updates