बंटी बबली की तरह ग्वालियर के बाबू बिल्लू

2018-05-23 09:07:34 437
Sandhya Desh


अपने पारख जी के बाड़े के बाबू और बिल्लू पिता-पुत्र दोनों मिलकर बाजार का हुंडी, साख पत्र व अन्य लेख पत्रों पर लिये गये 40 करोड़ रूपये से भी अधिक कर्जा पचा गये हैं। अब दोनों कर्जा देने वालों को ठेंगा दिखा रहे है। पुत्र ने तो बाकायदा पिता से संबंध अलग होने की विज्ञप्ति छपवा ली है। जबकि दोनों एक ही थाली के चटटे बटटे हैं। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
बिल्लू ने बाप से अलग होने का दिखावा कर मधुवन एन्कलेव में अपने समधी के पास 3 मंजिला मकान ले लिया है और 1 करोड़ कार तो उसमे साज सज्जा का काम ही करवा लिया हैं। वहीं बाबू की अपने बाजार के कर्जें को देने की नीयत नहीं है इसीलिये वह वकीलों को तो पूरा पैसा दे रहा है। उसने अपना अजीत मार्केट का मकान बेचकर कहीं शिफ्ट होने की प्लानिंग कर ली है। मकान की कीमत यह 7.50 करोड़ मांग रहे है, जबकि खरीददार ने 7 करोड़ लगाया है।आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com
बाजार में दीवाला निकलने का दिखावा करने वाले बाबू के ठाठ भी निराले है, उसने अभी भी दो महंगी गाड़ी ब्रीजा और इनोवा मेंटेन कर रखी है। लेकिन बाजार का पैसा देने की नीयत नहीं हैं। बाप-बेटे की लड़ाई का दिखावा करने वाले बाबू-बिल्लू आपस में मिले हुये हैं। बीते दिवस वह अपने पुत्र बिल्लू के पास दिनभर मधुवन एन्कलेव में रहे। इससे साफ है कि दोनों नियमित मिलते है, लेकिन बाजार में अबोला व संबंध खत्म होने का दिखावा कर रहे है। आप पढ़ रहे हैं www.sandhyadesh.com

Latest Updates