Recent Posts

ताका-झांकी

एलएनआईपीई में वाॅलीबाल टीम का कोचिंग कैम्प 6 व समर कैम्प 7 मई से

2018-05-05 19:08:32 96
Sandhya Desh


ग्वालियर। लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान में भारतीय वाॅलीबाल संघ के द्वारा 6 मई से 19 जुलाई तक जूनियर एशियन चैम्पियनशिप के लिए भारतीय जूनियर वाॅलीबाल टीम का राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर लगाया जा रहा हैं। 6 से आरंभ यह प्रशिक्षण शिविर तीन सत्रों में संस्थान के बहुउद्देशीय हाॅल में चलाया जाएगा। 
लक्ष्मीबाई राष्ट्रीय शारीरिक शिक्षा संस्थान के कुलपति दिलीप कुमार डुरैहा ने पत्रकारों को बताया कि इस कैम्प में देशभर से कुल 24 खिलाड़ी भाग लेंगे जिनमें से कैम्प पूर्ण होने पर 12 श्रेष्ठ खिलाड़ियों का चयन जूनियर वाॅलीबाल टीम के लिए किया जाएगा। चयनित खिलाड़ी 21-28 जुलाई तक बहरीन के मनामा शहर में आयोजित जूनियर एशियन वाॅलीबाल पुरूष चैम्पियनशिप-2018 में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। कैम्प के लिए आ रहे 24 सदस्यीय दल में उत्तर प्रदेश, हरियाणा से सर्वाधिक 4-4, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु से 3-3, केरल से 2 व गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, छतीसगढ़ से 1-1 खिलाड़ी शामिल हैं, जिनका चयन दिनांक 9-10 मार्च तक महाराष्ट्र के औरंगाबाद में भारतीय खेल प्राधिकरण स्थित इंडोर स्टेडियम में अखिल भारतीय स्तर पर ट्रायल के माध्यम से किया गया था। 
कुलपति डुरैहा के अनुसार इस चयन ट्रायल में देश भर से कुल 110 खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया था। राष्ट्रीय प्रशिक्षण शिविर के मुख्य प्रशिक्षक प्रो. अभिमन्यु सिंह व सहायक प्रशिक्षक विरल शाह तथा प्रवीन कुमार शर्मा हैं। प्रशिक्षण शिविर के समन्वयक डाॅ. अमर कुमार (सहायक प्राध्यापक, एलएनआईपीई) हैं। प्रशिक्षण शिविर में आए सभी खिलाड़ियों व आॅफिसियल्स के ठहरने व भोजन की व्यवस्था संस्थान के महात्मा गांधी अंर्तराष्ट्रीय गेस्ट हाउस में की गई हैं।

ग्रीष्मकालीन शिविर 
कुलपति दिलीप कुमार डुरैहा ने बताया कि एलएनआईपीई में हर वर्ष की भांति इस वर्ष भी शहीद सेंकेड लेफ्टिनेंट शशींद्र सिंह (पूर्व छात्र, वीर चक्र पुरस्कार विजेता) की याद में 45 दिनों का ग्रीष्मकालीन शिविर 7 मई से 22 जून तक के लिए लगाया जा रहा है। 
कुलपति के अनुसार इस वर्ष शिविर में कुल 20 विभिन्न खेलों (क्रिकेट, टेनिस, फुटबाॅल, बास्केटबाॅल, स्केटिंग, योग, बैडमिंटन, टेबल टेनिस, भारत्तोलन एवं शारीरिक दक्षता, ऐराॅबिक, जिम्नास्टिक एवं ट्रेम्पोलिन, शारीरिक दक्षता (विशेष), व्हालीबाॅल, एथलेटिक्स, जूड़ो, एडवेन्चर स्पोर्ट्स, हाॅकी, स्क्वैश, रायफलध्पिस्टल शूटिंग, हैण्डबाॅल) व ललित कला और संगीत से एक-एक गतिविधि का आयोजन किया जाना हैं जिसमें कुल 2793 प्रतिभागियों ने प्रतिभागिता दर्ज करायी  हैं। 
कुलपति के अनुसार शिविर के लिए अधिकतम खेलों में 06-19 वर्ष आयु वर्ग की सीमा रखी गई थी जबकि फाइन आट्र्स, फिजीकल फिटनेस, एरोबिक्स, वेट टेªनिंग व योगा के लिए कोई आयु वर्ग निश्चित नहीं रखा गया था। शिविर रोजाना दो सत्रों सुबह व शाम में चलाया जाएगा। शिविर में हिस्सा लेने वाले छात्रों के अभिभावकों के लिए ग्रीष्मकालीन शिविर के दौरान निःशुल्क योगा व वेलनेस कार्यक्रम भी आयोजित किए गए हैं जिससे कि बच्चों के अभिभावक भी लाभान्वित हो।

Latest Updates