Recent Posts

ताका-झांकी

जन-सुनवाई में हुआ लोगों की समस्याओं का निराकरण

2018-04-17 19:11:40 35
Sandhya Desh


ग्वालियर ।  जन-सुनवाई लोगों की समस्याओं के निराकरण का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। इसके माध्यम से अधिकारियों द्वारा नागरिकों की समस्याओं को सुनकर तत्काल उनका निराकरण किया जाता है। प्रत्येक मंगलवार को आयोजित होने वाली जन-सुनवाई में कई फरियादियों की समस्यायें सुनी गईं। 
जेएएच कैम्पस लश्कर निवासी श्रीमती प्रेमकरन ने बताया कि उसके पति जगदीश करन की मृत्यु हो गई थी। उसके पास शहरी घरेलू कामकाजी महिला का कार्ड है, जिसके तहत उसे अंत्येष्टि सहायता के लिए राशि प्रदान की जाना थी। परंतु उसे यह राशि नहीं मिली है। इसी प्रकार लाइन नं.-12/1, बिरलानगर निवासी रश्मि ने अपनी समस्या सुनाई कि उसके पति महेश की दोनों किडनी खराब हैं, उसे आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाए तथा उसके पति का नि:शुल्क डायलेसिस किया जाए। उनकी समस्या सुनते हुए कलेक्टर श्री राहुल जैन ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि फरियादी के आवेदन पर तुरंत कार्रवाई की जाए। इसी प्रकार अन्य आवेदकों को भी बीमारी में आर्थिक सहायाता प्रदान करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। राधा कृष्ण दुबे प्रौण शिक्षा केन्द्र में कम्प्यूटर ऑपरेटर के पद पर कार्यरत हिमांशु शर्मा ने बताया कि मार्च 2017 से अभी तक उसे मानदेय नहीं दिया गया है। जिस पर कार्रवाई करते हुए जिला सीईओ ने 10 दिन मे मानदेय दिलाने का आश्वासन दिया और जिला शिक्षा अधिकारी को इस पर तुरंत कार्रवाई के निर्देश दिए। 
इसी प्रकार जीवाजी चौक महाराज बाड़ा लश्कर के व्यापारियों ने कलेक्टर के समक्ष अपनी समस्या रखी। उन्होंने बताया कि महाराज बाड़े पर अतिक्रमण एवं टाउन हॉल के बाहर टू-व्हीलर पार्किंग के कारण टाउन हॉल के आस-पास व्यापारियों का व्यापार प्रभावित हो रहा है। उनकी समस्या को गंभीरता से सुनते हुए कलेक्टर श्री जैन ने शीघ्र ही कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जन-सुनवाई में इस बार 55 फरियादियों के आवेदन ऑनलाइन दर्ज कराए गए। कलेक्टर राहुल जैन, अपर कलेक्टर दिनेश श्रीवास्तव, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शिवम वर्मा व अपर कलेक्टर शिवराज वर्मा सहित जिला प्रशासन के अन्य अधिकारियों ने एक – एक कर सभी फरियादियों की समस्याये सुनीं और उनके आवेदनों के निराकरण की रूपरेखा तय की। 

Latest Updates