विज्ञान मेले में जल संसाधन के चलित मॉडल को प्रथम स्थान

2018-02-14 18:58:12 70
Sandhya Desh

जल संसाधन मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने दी बधाई
 भोपाल । जल संसाधन, जनसंपर्क और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने विभागीय अधिकारियों को विज्ञान मेले में सिंचाई परियोजना के मॉडल को प्रथम पुरस्कार प्राप्त होने पर बधाई दी। बीएचईएल दशहरा मैदान, भोपाल में 12 फरवरी को सम्पन्न 4 दिवसीय मेले में विभिन्न महाविद्यालयों, संस्थाओं, विद्यार्थियों और आम नागरिकों ने जल संसाधन विभाग के इस मॉडल का अवलोकन किया। साथ ही पूर्ण और निर्माणाधीन परियोजना का विवरण छायाचित्र एवं एलईडी बोर्ड से माध्यम से प्रदर्शित किया गया
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग और विज्ञान भारती द्वारा हाल ही में भोपाल में लगाए गए विज्ञान मेले में अनेक विभाग के स्टॉल पर विभागीय गतिविधियों को विवरण प्रदर्शित किया गया। मेले में जल संसाधन विभाग द्वारा विभिन्न सिंचाई परियोजनाओं की जानकारी के साथ ही बैतूल जिले की पारस डोह मध्यम सिंचाई परियोजना का चलित मॉडल प्रदर्शित किया गया। परियोजना के माध्यम से बैतूल जिले में 17 हजार 785 हेक्टेयर क्षेत्र में 40 ग्रामों के लिए सिंचाई की जा सकेगी। योजना में बांध का निर्माण भी लगभग पूर्ण हो चुका है। आने वाले 2 वर्ष में परियोजना पूर्ण हो जाएगी।
परियोजना की लागत 488 करोड़ रुपए है। मेला आयोजन समिति द्वारा पारस डोह सिंचाई परियोजना के चलित मॉडल को सर्वश्रेष्ठ माना गया। ऊर्जा मंत्री  पारस जैन द्वारा इस मॉडल को राज्य सरकार द्वारा प्रदर्शित सभी मॉडल में प्रथम पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया।

Latest Updates