Recent Posts

ताका-झांकी

कांग्रेस ने चुनाव आयोग से की मुंगावली में फर्जी मतदान होने की संभावना की शिकायत

2018-02-13 20:44:08 188
Sandhya Desh


भोपाल। प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता जे.पी. धनोपिया, रवि सक्सेना, पंकज चतुर्वेदी, दुर्गेश शर्मा, सै. साजिद अली, शानू कुरैशी, असद उद्दीन खान के एक प्रतिनिधि मंडल ने मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को एक पत्र प्रेषित कर मुंगावली में भाजपा द्वारा फर्जी मतदान कराये जाने की संभावना की शिकायत की हैं। 
प्रतिनिधि मंडल ने पत्र में कहा है कि प्रदेश के मुंगावली विधान सभा के उप चुनाव का कार्यक्रम निर्धारित घोषणा अनुसार जारी है एवं आदर्श आचार संहिता प्रभावशील है तथा उप चुनाव का मतदान 24 फरवरी को होना नियत है तथा चुनाव अधिकारी द्वारा कांग्रेस प्रत्याशी को मतदान के संबंध में जो मतदाता सूची सीडी के माध्यम से उपलब्ध कराई गई है उस मतदाता सूची का अवलोकन करने पर बहुत सारी अनियमितताएं प्रतीत हो रही है जिसमें सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अकेले मुंगावली विधान सभा क्षेत्र में हजारों की संख्या में एक-एक मतदाता का अलग-अलग मतदान केन्द्रों में उनके नाम मतदाता सूची में सम्मलित है तथा सैकड़ों की संख्या में ऐसे मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में उल्लेखित है जिनके नाम अलग-अलग मतदान केन्द्रों में मतदाता सूची में दर्ज है तथा एक ही मतदाता का फोटो अलग-अलग मतदान केन्द्रों पर मतदाता सूची में सम्मलित है। इससे साफ है कि एक ही व्यक्ति को दो-दो तीन-तीन मतदान केन्द्रों पर नाम सम्मलित किया गया है, जिनमें से अधिकतर के फोटोग्राफ भी मतदाता सूची में एक ही व्यक्ति के लगे हुए है तथा मतदाता सूची में आश्चर्यजनक बात यह भी देखने में आई है कि सात-आठ साल के बच्चे का फोटों मतदाता सूची में शामिल है तथा उसकी उम्र 31 साल लिखी हुई है और इसी प्रकार  24- 25 साल की युवती का फोटो लगा हुआ है और उसकी उम्र 70-71 वर्ष लिखी है। 
इन सब फर्जीवाडे से यह स्पष्ट हो गया है कि प्रदेश की सत्तारूढ भाजपा द्वारा मतदाता सूचियों में बड़े पैमाने पर गडबडी कराई गई है तथा मतदान दिवस को बड़े पैमाने पर फर्जी मतदान कराने की योजना को मूर्तरूप दिए जाने का संदेह स्पष्ट हो रहा है । उक्त संबंध में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी के कार्यालय में जब-जब भी राजनैतिक दलों की बैठकें आयोजित हुई है तब-तब कांग्रेस पार्टी की ओर से इस बात की शिकायत श्रीमानजी के समक्ष की गई हैं कि समूचे प्रदेश में मतदाता सूचियों में सत्तारूढ भाजपा द्वारा बड़े पैमाने पर फर्जी नामों को दो-दो-तीन-तीन जगह जुडवाए गए हैं और सैकड़ों पात्र मतदाताओं के नाम भी मतदाता सूची से विलोपित करा दिए गए है, लेकिन खेद के साथ पुनः कहना पड़ रहा है कि निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों के प्रकाशन के संबंध में सतर्कता नहीं बरती, जिसका परिणाम मतदाता सूचियों में फर्जीवाडा उल्लेखित होने की स्थिति निर्मित हो रही है।
कांग्रेस पार्टी ने निर्वाचन आयोग से आग्रह किया है कि मुंगावली विधान सभा क्षेत्र की मतदाता सूचियों में हजारों की संख्या में डुप्लीकेट मतदाताओं के नाम उल्लेखित हैं और सैकडों की संख्या में एक-एक मतदाता के फोटो सहित दो-तीन अलग अलग मतदान केन्द्रों पर मतदाता सूची में नाम सम्मिलित है, इसलिए मतदान दिवस 24 फरवरी के पूर्व मुंगावली विधान सभा क्षेत्र की मतदाता सूची का पुनर्रीक्षण का कार्य कराया जाए, मतदाताओं के डुप्लीकेट नाम, एक-एक मतदाता के फोटो सहित दो-दो, तीन-तीन स्थानों पर नाम उल्लेखित हैं, उन्हें तत्काल हटाया जाएं, उन्हें मतदान करने से रोकने की उचित कार्यवाही की जाएं। साथ ही भाजपा के नेताओं एवं प्रशासनिक स्तर पर उक्त मतदाता सूची घोटाले में शामिल अधिकारियों, कर्मचारियों के संबंध में जांच करा कर दोषी पाए जाने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जावें जिससे कि मुंगावली विधान सभा का उप चुनाव का मतदान निष्पक्ष एवं स्वतंत्र रूप से सम्पन्न हो सके।

Latest Updates