Recent Posts

ताका-झांकी

छात्रवृत्ति वितरण में किसी प्रकार की कोताही न बरती जाए – कलेक्टर

2018-02-13 19:08:14 63
Sandhya Desh


* बैठक में अनुपस्थित रहने पर एमएलबी कॉलेज के प्राचार्य के विरूद्ध कार्रवाई 
ग्वालियर । जिले में अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं के छात्रवृत्ति वितरण में लापरवाही बरतने वालों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई की जायेगी। छात्रवृत्ति प्रकरणों के लिये 15 फरवरी अंतिम तिथि निर्धारित की गई है। उक्त अवधि के पश्चात जिन संस्थाओं से छात्र-छात्राओं के छात्रवृत्ति प्रकरण प्राप्त नहीं होंगे, ऐसी संस्थाओं से राशि वसूल कर छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति के रूप में राशि वितरित की जायेगी। उक्त निर्देश कलेक्टर राहुल जैन ने मंगलवार को कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में छात्रवृत्ति वितरण और आवास किराए के संबंध में समीक्षा बैठक में दिए। 
बैठक में सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्रीमती ऊषा पाठक सहित शासकीय एवं अशासकीय महाविद्यालयों के नोडल अधिकारी सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर राहुल जैन ने महारानी लक्ष्मीबाई महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. के एस राठौर के विरूद्ध बैठक में अनुपस्थित रहने और छात्रवृत्ति के प्रकरण लंबित पाए जाने पर एक दिन का वेतन राजसात करने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिनकी भी संस्थाओं के छात्रवृत्ति प्रकरण अंतिम तिथि 15 फरवरी के पश्चात लंबित पाए गए तो संबंधित संस्था से छात्रवृत्ति की राशि वसूल की जायेगी। वसूल की गई राशि से ही छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति राशि का वितरण कराया जायेगा। कलेक्टर ने सभी नोडल अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपनी-अपनी संस्थाओं के शतप्रतिशत पात्र छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति मिले, यह सुनिश्चित करें। नोडल अधिकारी जिन संस्थाओं से छात्र-छात्राओं के आवेदनों की पूर्ति की जाना है, उनकी स्वयं रूचि लेकर पूर्ति कराएँ और अंतिम तिथि से पूर्व प्रकरण में स्वीकृति कराकर छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति का वितरण कराना सुनिश्चित करें। 
कलेक्टर राहुल जैन ने कहा कि सीएम हैल्पलाइन में हर बार छात्रवृत्ति वितरण को लेकर शिकायतें प्राप्त होती हैं। सीएम हैल्पलाइन में छात्रवृत्ति के संबंध में कोई भी शिकायत प्राप्त हुई तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध कार्रवाई की जायेगी। बैठक में कलेक्टर ने अनुसूचित जाति, जनजाति एवं पिछड़ा वर्ग के ऐसे छात्र जो किराए के मकान लेकर अपनी पढ़ाई कर रहे हैं, उन्हें किराए की राशि उपलब्ध कराई जाना है। सभी पात्र छात्र-छात्राओं को किराए की राशि का वितरण समय पर हो, यह सुनिश्चित किया जाए। पिछड़ा वर्ग के छात्र-छात्राओं के भी लंबित छात्रवृत्ति के प्रकरण निर्धारित समय-सीमा में स्वीकृत किए जाकर छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति का वितरण सुनिश्चित किया जाए। कलेक्टर ने सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्रीमती ऊषा पाठक से कहा कि छात्रवृत्ति वितरण के मामले में ग्वालियर जिले की प्रगति संतोषजनक नहीं है। विभाग अपने स्तर से त्वरित कार्रवाई कर जिले की स्थिति में सुधार लाए। सुधार न पाए जाने पर संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारियों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई की जायेगी। 

Latest Updates