अब सारा फोकस आॅप्टीकल फाइबर पर, बेहतर सेवा को प्रतिबद्ध: शुक्ला

2018-02-12 18:19:17 203
Sandhya Desh


* बीएसएनएल सीजीएम ग्वालियर आये
ग्वालियर। बीएसएनएल अपना सारा फोकस अब आॅप्टीकल फाइबर पर करेगा। आॅप्टीकल फाइबर से बीएसएनएल की सर्विस और सबसे ज्यादा तेज हो सकेगी। उक्त जानकारी आज मध्यप्रदेश भारत संचार निगम लिमिटेड के मुख्य महाप्रबंधक सीजीएम महेश शुक्ला ने दी।
आज ग्वालियर में जोनल बीएसएनएल अधिकारियों की बैठक के उपरांत पत्रकारों से चर्चा करते हुये सीजीएम महेश शुक्ला ने बताया कि बीएसएनएल अपने उपभोक्ताओं को बेहतर सेवा देने के लिए प्रतिबद्ध है, अब हम काॅपर से हटकर आॅप्टीकल फाइबर केबल पर ध्यान देंगे। आॅप्टीकल फाइबर का संस्थापन आसान है और इसकी स्पीड भी काॅपर से 10 गुना ज्यादा है। इससे उपभोक्ताओं को बेसिक टेलीफोन पर बेहतर आवाज के साथ ब्राॅडबैंड की स्पीड भी तेज मिलेगी। इसके अलावा अब हम बड़े माॅल, बिल्डिंग व कालोनियों में भी बिल्डर से राजस्व भागीदारी कर उनके स्थान तक आॅप्टीकल फाइबर उपलब्ध करने की योजना से मूर्तरूप देंगे, ताकि इससे उपभोक्ताओं को कम कीमत पर ब्राॅडबैंड व बेहतर टेलीफोन सुविधा मिल सकें। ब्राॅडबैंड की यह स्पीड 4.5 जी की हाईस्पीड होगी।
सीजीएम शुक्ला ने कहा कि नवीन वित्तीय वर्ष में हम पूरे प्रदेश में 10 प्रतिशत से अधिक उपभोक्ताओं की कृषि करने का टारगेट मोबाइल, ब्राॅडबैंड व बेसिक टेलीफोन में लेकर चल रहे हैं। इसके साथ ही उपभोक्ताओं की शिकायतों का त्वरित निराकरण का ध्येय भी लेकर चल रहे हैं, जल्दी ही केन्द्रीयकृत नंबर सेवा को भी और अधिक फास्ट व विश्वसनीय किया जायेगा। वहीं दूरसंचार उपभोक्ता सेवा प्रकोष्ठों की भी स्थिति बेहतर की जायेगी। शुक्ला ने बताया कि उपभोक्ता सेवा प्रकोष्ठों का आधुनिकीकरण संतृप्ति के नाम से किया जा रहा है इन्हें टेलीशाॅपी का स्वरूप दिया जायेगा।
सीजीएम शुक्ला ने एक सवाल के जबाब में बताया कि पूरे प्रदेश में बीएसएनएल ने 1 हजार 17 करोड़ का राजस्व बीते वर्ष अर्जित किया है। जिसमें इस वर्ष हमने 10 प्रतिशत राजस्व वृद्धि का लाभ रखा है। शुक्ला के अनुसार प्रदेश में बीएसएनएल के 40 लाख मोबाइल धारक, 6.50 लाख बेसिक टेलीफोन और 3.25 लाख ब्राॅडबैंड कनेक्शन धारक हैं। जिसमें हम अपनी सेवाओं व प्लान से और बढ़ाने का प्रयास करेंगे। इस मौके पर महाप्रबंधक जोनल पंकज गुप्ता, महाप्रबंधक ग्वालियर एमएस धाकड़ भी उपस्थित थे। 

Latest Updates