आजीवन सहयोग निधि का जन्म मप्र की भूमि से हुआ थाः जादौन

2018-02-10 19:02:22 149
Sandhya Desh

 
ग्वालियर । आजीवन सहयोग निधि का जन्म मध्यप्रदेश की भूमि से हुआ था। आजीवन सहयोग निधि के जन्मदाता हम सबके श्रद्धा के केंद्र परम आदरणीय ठाकरे साहब थे। आज से कई दशक पूर्व आदरणीय ठाकरे जी ने एक कल्पना की, हमारे जो कार्यकर्ता हैं उन कार्यकर्ताओं के छोटे-छोटे सहयोग से हम पार्टी को चलाने का काम करेंगे और मध्यप्रदेश से निकलती हुई यह यात्रा केरल तक पहुंची और आज आजीवन सहयोग निधि के माध्यम से पूरे राष्ट्र में अपनी सहयोग निधि के राशि से संगठन का कार्य चलता है। 
उक्त उदगार साडा अध्यक्ष एवं आजीवन सहयोग निधि के प्रभारी राकेश जादौन ने आज भाजपा कार्यालय 38 रेसकोर्स रोड पर आयोजित भाजपा जिला ग्वालियर महागनर की आजीवन सहयोग निधि को लेकर एक वृहद बैठक में उपस्थित कार्यकर्ताओं को संबोधित हुए व्यक्त किए। जादौन ने कहा कि 11 फरवरी को समर्पण दिवस के दिन सभी कार्यकर्ता आजीवन सहयोग निधि एकत्रित करते हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ही एकमात्र ऐसी पार्टी है जो कार्यकर्ताओं के पैसे के द्वारा संचालित की जाने वाली पार्टी है।
प्रदेश कार्यसमिति सदस्य वेदप्रकाश शर्मा ने कहा कि आजीवन सहयोग निधि की जवाबदारी श्री राकेश जादौन जी को दी है। वह पार्टी का निर्णय है। उन्होंने कहा कि राकेश जादौन जी में वह सामथ्र्य क्षमता है कि वे आजीवन निधि के काम को बहुत बखूबी और आसानी से लक्ष्य तक पहुंचा देंगे। उन्होंने कहा कि जैसे भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत अकेले उठाया था और इसका श्रेय सभी ग्वालवालों को भी मिलता है, ऐसे ही मुझे लगता है राकेश जी के साथ पूरी पार्टी के कार्यकर्ता सहयोग करेंगे। उन्होंने कहा कि अपनी जो प्राचीन परंपरा है उसमें तीन चीजें बहुत महत्वपूर्ण है अर्पण, तर्पण और समर्पण। इसका अर्थ है भगवान को अर्पण और पूर्वजों को तर्पण। समाज में हम सब दोनों काम तो करते ही हैं, रोज भगवान को कुछ ना कुछ अर्पण करते ही हैं और अपने पूर्वजों को भी कभी ना कभी तर्पण करते है। 
उन्होंने कहा कि आज समाज और देश हित के विचार वाली पार्टी भारतीय जनता पार्टी के लिए सभी कार्यकर्ता समर्पण करें। ये समर्पण है आजीवन सहयोग निधि के रूप में भारतीय जनता पार्टी के सभी कार्यकर्ता एवं समाज के लोगों से धनराशि एकत्रित की जाती है, इस धनराशि से पार्टी संचालित की जाती है। भाजपा जिलाध्यक्ष  देवेश शर्मा ने कहा कि आजीवन सहयोग निधि एकत्रित करना पार्टी के प्रत्येक कार्यकर्ता की जिम्मेदारी है। यह पार्टी की सामान्य प्रक्रिया है। जब मैं जिलाध्यक्ष निर्वाचित हुआ उस वक्त प्रदेश भोपाल के अंदर बैठक आयोजित की गई उसमें सभी वरिष्ठ ने नेतृत्व के द्वारा निर्देशित की गई धनराशि के लक्ष्य की प्राप्ति के लिए गवालियर के कार्यकर्ताओं ने अपनी मेहनत से उस लक्ष्य को प्राप्त किया और जिस तरह कार्यकर्ताओं ने मेहनत और पराकाष्ठा की और आने वाले 11 फरवरी को समर्पण दिवस के अवसर पर सभी कार्यकर्ता आजीवन सहयोग निधि एकत्रित कर पूर्ण लक्ष्य को प्राप्त करेंगे।
इस अवसर पर जिलाध्यक्ष देवेश शर्मा, साडा अध्यक्ष राकेश जादौन, प्रदेश कार्यसमिति सदस्य वेदप्रकाश शर्मा, जिला महामंत्रीगण कमल माखीजानी, शरद गौतम, महेश उमरैया, पूर्व महापौर समीक्षा गुप्ता, पूर्व साडा अध्यक्ष जयसिंह कुशवाह, उपाध्यक्ष रामेश्वर भदौरिया सहित अशोक जादौन, दीपक शर्मा, महिलामोर्चा जिलाध्यक्ष श्रीमती खुशबू गुप्ता, किसान मोर्चा अध्यक्ष भरत दांतरे, श्रीमती रीना सोलंकी, रेखा धोलाखंडी, श्रीमती रेशू राजावत, विनोद शर्मा, युवा मोर्चा के उपाध्यक्ष विनय जैन, युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष विवेक प्रताप सिंह चैहान, नूतन श्रीवास्तव, राघवेंद्र सिंह तोमर, राजू सेठ, अशोक जैन, सुघर सिंह पवैया, विहवल सेंगर, रमेश सेन, तिलकराज बैरी, रामप्रकाश परमार, जयंत शर्मा, पवन सिकारिया, अमित बंसल, पुरूषोत्तम टमोटिया, अरूण कुशवाह, प्रमेंद्र शर्मा, सुभाष शर्मा आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे। संचालन जिला महामंत्री शरद गौतमएवं आभार उपाध्यक्ष रामेश्वर भदौरिया ने व्यक्त किया।

Latest Updates