देवी के फूलों से खेती कर हजारों कमा रहीं आदिवासी महिलाएं

2018-02-10 18:51:56 33
Sandhya Desh

कोंडागांव छत्तीसगढ के कोंडागांव जिले की कुछ आदिवासी महिलाएं देवी के मंदिर में चढ़ाए चंद फूलों से गेंदे की खेती कर अब हजारों रुपए कमा रही हैं
कोंडागांव से 65 किमी दूर मैनपुर की चार महिलाएं रेखा बाई, पद्मिनी, लच्छिनी और श्यामवती पांच एकड़ में गेंदे के फूल की खेती कर प्रति एकड़ 70-80 हजार रुपए कमा रही हैं। करीब तीन साल पहले ये महिलाएं गांव के माता मंदिर में गेंदे के फूल चढ़ाने के बाद मंदिर के पुजारी से बातचीत करतीं थीं। एक दिन पुजारी जयमन ने बातों-बातों में उन्हें गेंदे की खेती करने की सलाह दी। पुजारी ने इसके लिए देवी पर चढ़ाए फूल उन्हें दे दिए और उन्हें सुखाकर बीज निकालने को कहा। महिलाएं ने यही बीज खेतों में बोए। तीन साल से इस काम में लगी इन महिलाओं की इच्छाशक्ति की बदौलत अब सभी हजारों रुपए कमा रही हैं। 
आधुनिक तरीके से हो रही इस खेती से उपजे फूल अब स्थानीय स्तर के साथ जगदलपुर, कांकेर और दंतेवाड़ा तक पहुंचाए जा रहे हैं। इन महिलाओं से प्रेरित होकर गांव की आधा दर्जन महिलाओं ने भी फूलों की खेती शुरू की है। 
उद्यानिकी विभाग के सहायक संचालक कमलेश कुमार साहू ने बताया कि ग्रामीण महिलाओं को अब साग सब्जी के साथ फूलों की खेती के लिए भी प्रोत्साहित किया जा रहा है। इसके अच्छे परिणाम आने शुरू हो गए हैं। यहां से फूल अन्य शहरों में जा रहे हैं। समय-समय पर उन्हें तकनीकी और विभागीय योजनाओं की जानकारी दी जाती है।

Latest Updates