Recent Posts

ताका-झांकी

जनाव यह मध्यप्रदेश हैः दिव्यांग मित्र अभियान

2018-02-09 18:43:00 294
Sandhya Desh


जनाव यह मध्यप्रदेश है और मध्यप्रदेश में भी रेडक्रास सोसायटी वजूद में है, लेकिन कोई एक अच्छा सराहनीय और बड़ा कार्य सूची में नहीं। वहीं हरियाणा राज्य की रेडक्रास सोसायटी ने मप्र के ग्वालियर चंबल अंचल में अपने झंडे गाढ़ दिये है। ग्वालियर जिले को दिव्यांग मित्र बनाने का उनका (हरियाणा रेडक्रास सोसायटी का) सपना 11 जनवरी को साकार होने जा रहा है, जो उन्होंने एल्मिको व धरा फाउंडेशन के साथ देखा था।
गौरतलब बात यह है कि हरियाणा के महामहिम प्रो. कप्तान सिंह सोलंकी व उनके पुत्र धरा फाउण्डेशन के राजेश सोलंकी ने मध्यप्रदेश में वो कर दिखाया, जो मध्यप्रदेश की रेडक्रास सोसायटी भारी भरकम फौज फांटे वाले पदाधिकारियों के साथ नहीं कर सकी। यहां केवल पदों पर काबिज होने का शौक है कार्य का नहीं। हरियाणा रेडक्रास की तारीफ करनी होगी कि दिव्यांगों के लिये इतना बड़ा दिल उन्होंने दूसरे राज्य मध्यप्रदेश में रखा और वह कर दिखाया जो मध्यप्रदेश की रेडक्रास सोसायटी नहीं कर सकी है। जबकि मध्यप्रदेश की रेडक्रास सोसायटी व जिला रेडक्रास सोसायटी पैसे से सर्वाधिक धन वाला है, यहां हर लायसेंस पर भारी भरकम पैसा वसूला जाता है। 

Latest Updates