किसान को सामने रखकर बनीं है योजनाएं: डाॅ मिश्र

2018-02-07 19:03:07 76
Sandhya Desh


* जिगना व सोनागिर में ग्रामीणजन से रूबरू हुए जनसम्पर्क मंत्री 
दतिया । जनसम्पर्क मंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्र जिगना एवं सोनागिर पहंुचकर ग्रामीणजन से रूबरू हुए। जिगना पहुंचने पर जनसम्पर्क मंत्री का पुष्पहारों से स्वागत किया। इस दौरान भूपेन्द्र राजा द्वारा गांव के बुर्जगों का जनसम्पर्क मंत्री के हाथों शाॅल, श्रीफल से सम्मान कराया। जनसम्पर्क मंत्री द्वारा ग्रामीणजन से भावांतर भुगतान योजना में रवी के लिए नवीन पंजीयन 12 फरवरी से कराने तथा सूखा राहत की राशि के लिए पटवारी या तहसीलदार को बैंक, आधार नम्बर, मोबाईल नम्बर तथा परिवार आईडी देने की अपील की। 
जनसम्पर्क मंत्री डाँ. नरोत्तम मिश्र ने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार किसान हितैषी सरकार हैं। किसानों के लिए अनेक योजनाएं तैयार की गई है। भावांतर भुगतान योजना मध्यप्रदेश की अनोखी योजना है जो किसान को सामने रखकर बनाई गई है। इसकी सराहना पूरे देश में हो रही है। उन्होंने कहा कि गरीबों को एक रूपये किलो गेंहूॅ, चावल, नमक दिया जा रहा है। बच्चों को शिक्षा के लिए सभी संसाधन उपलब्ध कराए जा रहे है। भावांतर भुगतान योजना में किसानों को फसल का उचित मूल्य दिया जा रहा है। आगामी रवी फसल में भावांतर भुगतान मंे चने का 4400 रूपये प्रति क्विंटल, प्याज का 800 रूपये प्रति क्विंटल दिया जायेगा। कार्यक्रम के दौरान शिवराम सिंह मुन्ना राजा, लक्ष्मण सिंह परमार, प्रताप सिंह, अरूण मिश्रा, राकेश भार्गव, विनय यादव, कमलू चैबे, मायाराम शर्मा, लक्ष्मण पाल, गोविन्ददास पाल, घनश्याम सिंह आदि उपस्थित थे।  

सोनागिर में गर्मजोशी से भव्य स्वागत 
राहत की चाय एवं बिजली के बिस्कुट कार्यक्रम में पहुंचे मध्यप्रदेश शासन के जल संसाधन, जनसम्पर्क एवं संसदीय कार्य विभाग मंत्री डाॅ. नरोत्तम मिश्र का सोनागिर के नागरिकों ने गर्मजोशी से भव्य स्वागत किया। 
डीजे और पुष्पवर्षा के साथ नगर भ्रमण के पश्चात कार्यक्रम स्थल पर पहुंचे जनसम्पर्क मंत्री ने कार्यक्रम में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यप्रदेश सरकार दरिद्र नारायण की सेवा का उद्देश्य लेकर चल रही है। विगत वर्षो से एक रूपये किलो गेंहूॅ, चावल, नमक दिया जा रहा है। मजदूर एक दिन की मजदूरी में महीने भर का राशन प्राप्त कर बाकी पैसे अपने बच्चों की बेहतरी में लगा सकता है। 
उन्होंने बताया कि सिनावल ग्राम के 487 किसानों को 27 लाख  91 हजार 590 रूपये की राशि मिलेगी। सेवनी के 484 किसानों को 22 लाख 90 हजार तथा मुरेरा के 649 किसानों को 17 लाख 49 हजार रूपये की राशि दी जायेगी। उन्होंने स्थानीयजन की समस्यायें सुनीं और वाटर सप्लाई पंप की विद्युत सप्लाई बंद की शिकायत पर बिजली विभाग के अधिकारियों को कनेक्शन चालू करने के निर्देश दिए। इस दौरान संतोष चैधरी, नीरज चैधरी, अतर सिंह यादव, महेन्द्र परिहार, पीतम अहिरवार, अयोध्या प्रसाद सेन, सोनू रजक के अलावा विनय यादव, भरत राजौरिया, सुनील दुबे आदि उपस्थित थे। 
 

Latest Updates