विभागों में हो सकता है फेरबदल, बदलेंगे प्रभार के जिले

2018-02-04 09:14:15 469
Sandhya Desh


शिवराज कैबिनेट के विस्तार के बाद अब एक बार फिर मंत्रियों के प्रभार के जिले बदले जाएंगे। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार यह बदलाव नए मंत्रियों को जिलों की जिम्मेदारी देने के साथ-साथ पहले से मंत्रिमंडल में शामिल कुछ मंत्रियों के बीमार रहने के चलते किया जाएगा। प्रभार के जिलों में बदलाव भी एक-दो दिनों के भीतर कर दिया जाएगा।
राजभवन में शपथ के साथ ही अब जो नए मंत्री बने हैं, उन्हें विभागों के साथ प्रभार के जिलों की जिम्मेदारी भी दी जाएगी। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के कैबिनेट में शामिल मंत्री गौरीशंकर शेजवार, कुसुम महदेले, शरद जैन, हर्ष सिंह बीमारी के चलते जिलों में लगातार दौरे नहीं कर पा रहे हैं। हर्ष सिंह तो पिछले एक साल से बीमार हैं और उन्हें सिर्फ मंत्री पद से नवाजने का काम सरकार किए हुए है। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार ऐसे हालातों में इन मंत्रियों से प्रभार के जिले वापस लेकर नए मंत्रियों को सौंपा जा सकता है। साथ ही कुछ मंत्रियों के पास दो जिले हैं जिनके प्रभार में भी कमी की जा सकती है।

इन मंत्रियों के पास एक जिला
गोपाल भार्गव भोपाल, नरोत्तम मिश्रा रीवा, गौरीशंकर शेजवार जबलपुर, यशोधरा राजे सिंधिया राजगढ़ और हर्ष सिंह सीधी है। इनके अलावा सभी मंत्री और राज्य मंत्रियों के पास दो-जिले हैं। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार उम्मीद है कि मंत्री कुसुम सिंह महदेले, शरद जैन, पारस जैन और सूर्यप्रकाश मीना के जिलों में कटौती की जा सकती है।

विभागों में भी हो सकता है फेरबदल
अनुमान है कि मुख्यमंत्री कुछ मंत्रियों के विभागों में भी फेरबदल कर सकते हैं। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार राज्य मंत्री हर्ष सिंह के पास नवीन एवं नवकरणीय तथा आयुष का स्वतंत्र प्रभार था। उनके अस्वस्थ्य होने पर दो अन्य मंत्रियों को प्रभार के तौर पर दिए गए थे। सिंह के पास जल संसाधन विभाग भी है। माना जा रहा है कि सिंह को बिना विभाग का मंत्री बनाए रखा जाएगा।

Latest Updates