Recent Posts

ताका-झांकी

दिग्विजय, कमलनाथ कांग्रेस के मार्गदर्शक मंडल में ?

2018-02-03 08:57:51 589
Sandhya Desh


मनमोहन सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे जयराम रमेश के एक बयान ने नई सियासी अटकलों को जन्म दे दिया है। जयराम रमेश ने कोलकाता में कहा कि कांग्रेस के 60 पार नेताओं को खुद राजनीति से सेवानिवृत्त होकर राहुल गांधी के लिए मैदान खाली कर देना चाहिए। 
सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार जयराम रमेश के इस बयान के बाद सवाल उठ रहे हैं कि सोनिया गांधी, मनमोहन सिंह, जयराम रमेश, दिग्विजय सिंह, कमलनाथ, पी. चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद, अंबिका सोनी, वीरभद्र सिंह, सुशील कुमार शिंदे, सी.पी. जोशी, मल्लिकार्जुन खड़गे, अशोक गहलौत, अहमद पटेल और मोतीलाल बोरा जैसे दिग्गज नेता क्या कांग्रेस की राजनीति से गायब हो जाएंगे? सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार इसके उलट कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में सचिन पायलट, ज्योतिरादित्य सिंधिंया, अजय माकन, मनीष तिवारी, गौरव गोगोई, मिलिंद देवड़ा, दीपेंदर हुड्डा, जितिन प्रसाद, आर.पी.एन. सिंह, मधु यक्षी, संदीप दीक्षित, सुष्मिता देव, विजय इंदर सिंगला, गजेंद्र सिंह राजू खेरी जैसे नए चेहरों का 2019 में कांग्रेस में उदय होगा।
साल 2014 लोकसभा चुनाव में बीजेपी में नरेंद्र मोदी के उदय होने के बाद लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा, जसवंत सिंह जैसे दिग्गजों को मुख्यधारा की राजनीति से बीजेपी के मार्गदर्शक मंडली में भेज दिया गया है। सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार जब सोनिया गांधी ने जयपुर में कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में राहुल गांधी को कांग्रेस का उपाध्यक्ष बनाया था तभी से राहुल गांधी ने युवा नेताओं को अपनी टीम में मौका देना शुरू कर दिया था। दिल्ली में अजय माकन, यूपी में राज बब्बर, मध्यप्रदेश में ज्योतिरादित्य सिंधिंया , राजस्थान में सचिन पायलट, बिहार में चैधरी, तो पंजाब में बीजेपी से आए नवजोत सिंह सिद्धू को अपनी टीम में जगह देना शुरू कर दिया था।सांध्यदेश डाॅट काॅम के अनुसार 16 दिसबंर 2017 को कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद से पीएम मोदी की तरह देश के युवाओं का दिल जीतने में लगे राहुल अपनी नई टीम में युवा नेताओं को ज्यादा मौका दे रहे हैं।

Latest Updates