समय की मांग युवाओं को आध्यात्मिकता से परिचित कराना : बीके आदर्श

2018-01-12 18:32:03 294
Sandhya Desh


ग्वालियर। प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की स्थानीय शाखा पुराना हाई कोर्ट स्थित  संगम भवन पर आज राष्ट्रीय युवा दिवस पर एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया । 
कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया तत्पश्चात बी के डॉ गुरुचरण भाई ने संस्थान का परिचय देते हुए कहा कि आज की भौतिकता की अंधी दौड़ में ये संस्थान मानव मात्र को मानवीय और दैवी मूल्यों की शिक्षा निशुल्क रूप से प्रदान कर उन्हें देवत्व की और अग्रसर होने की प्रेरणा दे रहा है । तत्पश्चात स्वामी विवेकानंद जी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए क्षेत्रीय संचालिका राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी आदर्श बहन ने कहा कि आज स्वामी जी के उच्च स्तरीय चारित्रिक जीवन की वजह से 155 वर्ष बाद भी उन्हें सम्मान से याद किया जाता है।
आज जरुरत है कि स्वामी जी के जीवन से प्रेरणा लेकर ख़ास युवा वर्ग को अपने जीवन चारित्रिक एवं आध्यात्मिक रूप से सशक्त बनाने की । इसी क्षेत्र में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय की भगिनी संस्था राजयोग एजुकेशन एवं रिसर्च फाउंडेशन का युवा प्रभाग अपना महत्वपूर्ण योगदान दे युवा वर्ग के नैतिक उत्थान में अपनी विशेष भूमिका निभा रहा है । 
उन्होंने कहा कि स्वामी जी ने अपने जीवन में कभी भी आलस्य, अलबेलापन एवं चरित्र के पतन को कोई स्थान नहीं दिया जिसकी वजह से ही आज उनका नाम आदर और सत्कार के साथ लिया जाता है । उन्होंने अपने जीवन से युवा वर्ग को दृढ संकल्प लेकर हमेशा आगे बढ़ाने की प्रेरणा दी है, बस आवश्यकता है कि उनके यादगार दिन मनाने के साथ साथ उनके आचरण को जीवन में उतारने की । 
उन्होंने भाई बहनों का आह्वाहन करते हुए संस्थान की अतिरिक्त मुख्य प्रशासिका राजयोगिनी ब्रह्माकुमारी दादी रतनमोहिनी जी का उदाहरण देते हुए कहा कि एक तो हमें हमेशा स्वयं को युवा समझते हुए हर कार्य को उमंग उत्साह के साथ करना है जैसे दादी 93 साल की उम्र में भी युवाओं जैसे हमेशा हर कार्य में सदैव आगे रहती हैं । दूसरा अपने बच्चों को जो की देश का भविष्य हैं उन्हें आध्यात्मिकता की ओर प्रेरित करना है जैसे हम उनको शारीरिक शिक्षा हासिल करने के लिए प्रेरणा देते हैं । साथ ही साथ अपने मात पिता का, अपने बड़ों का और गुरुजनों का दिल से सम्मान करना है क्योंकि ये सभी लोग हर परिस्थिति में  हमारा भला ही चाहते हैं । 
कार्यक्रम के अंत में सभी भाई बहनों का धन्यवाद देते हुए बी के प्रहलाद भाई ने कहा कि हमें अपने हर कार्य पिता परमात्मा की याद में रहकर उमंग उत्साह से करना चाहिए । उन्होंने मकर संक्रांति के अवसर पर रविवार को होने वाले कार्यक्रम की जानकारी देते हुए कहा कि वर्त्तमान समय पिता परमात्मा कैसे हम सभी को संस्कारों को परिवर्तन करने की शिक्षा दे रहे हैं उसकी जानकारी प्राप्त करने के लिए 14 जनवरी प्रातः 7 से 9 बजे तक संस्कार क्रान्ति नामक कार्यक्रम का आयोजन माधोगंज स्थित सेवाकेंद्र प्रभु उपहार भवन में आयोजित किया जा रहा है ।कार्यक्रम में बी के जीतू भाई , बी के पावन भाई , बी के आशा बहन सहित कई भाई बहनों और युवाओं ने शिरकत की ।

Latest Updates