BREAKING!
  • वर्तमान परिवेश में व्यापारियों को संगठित होने की आवश्यकता है: भूपेन्द्र जैन
  • आज रात होगी खगोलीय घटना, मंगल को ढंकेगा चांद,
  • राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक बुधवार को
  • महिला के गले से मंगलसूत्र खींचकर भागे बाइक सवार बदमाश
  • 1 अप्रैल से बीएस-4 वाहनों के रजिस्ट्रेशन होंगे बंद
  • कटोराताल में रंगीन फव्वारों के लिए प्रजेंटेंशन हुए
  • मालवा में उत्सव, कमलनाथ पहुंचेंगे
  • समधी के शादी और बना दिया सरकारी प्रोग्राम
  • टेलीफिल्म हेल्प द पूअर स्टुडेंटस मे दिखाई देगी रंगयाना मौहल्ले की बस्तियाँ
  • पडाव में नया हाइवे.....?

Sandhyadesh

आज की खबर

भगवान राम के मर्यादित आचरण का अनुशरण करें: प्रद्युम्र सिंह तोमर

08-Oct-19 121
Sandhyadesh


अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा का दशहरा मिलन , शमी एवं शस्त्र पूजन कार्यक्रम संपन्न 
ग्वालियर। मध्यप्रदेश के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्र सिंह तोमर ने कहा है कि भगवान श्रीराम के मर्यादित आचरण का सभी को अनुशरण करें ,तभी समाज की अगली पीढी सुरक्षित एवं सभ्य बना सकेंगे। उन्होंने कहा कि आज हम शक्तिशाली अत्याचारियों का सम्मान करते हैं लेकिन गरीब समाज सेवी की उपेक्षा करते हैं। 
मंत्री प्रद्युम्र सिंह तोमर आज यहां अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के दशहरा पर्व पर आयोजित शस्त्र पूजन समारोह में महाराणा प्रताप भवन शताब्दीपुरम में उपस्थित क्षत्रिय समाज के लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होने कहा कि खाद्य सुुरक्षा में मिलावट एक बडा मुददा है, उन्होंने समाज के लोगों से आवहान किया कि आज शुद्ध के लिए युद्ध करना चाहिये। उन्होंने प्रशिक्षण के लिये आने वाले समाज के लोगों के लिए एक लाख रूपये देने की घोषणा की। इस मौके पर जगदीश सिंह तोमर साहित्यकार ने भी अपने विचार व्यक्त किये। उन्होने महाकवि सूर्यकांत त्रिपाठी निराला की राम की शक्ति साधना का उल्लेख करते हुए क्षत्रियों से फिर शक्ति की साधना कर विजय प्राप्त करने का आवहान किया। उन्होंने (दाहिर सिंध ) से लेकर महाराणा प्रताप तक की संघर्षशीलता का उदाहरण देकर प्रतिकार की शक्ति की महत्ता प्रतिपादित की। उन्होने कहा कि हमें तन से ही मन से भी ताकतवर होना चाहिये। इस अवसर पर अध्यक्षता कर रहे अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय महामंत्री इंजीनियर राजेन्द्र सिंह भदौरिया ने समाज के कार्यों के लिए दान दाताओं का स्मरण कर दानवीरों का महत्व बताया। उन्होने कौरव और पांडवों और उनके संघर्ष में भीष्मपितामह की भूमिका पर प्रश्र उठाते हुए क्षत्रियों की मौके पर मौन रहने की आलोचना की। उन्होंने क्षत्रियों से मुखर एवं निर्भय होकर कार्य करने का आव्हान किया। उन्होंने राजनीति में क्षत्रियों की बढती सक्रियता और शक्ति का उल्लेख करते हुए निराशा छोड आगे बढने का आवहान किया। उन्होंने क्षत्रिय बालकों के लिए निशुल्क प्रशिक्षण शुरू करने की घोषणा भी की। इस अवसर पर दीपावली बाद सुभाष सिंह चौहान, प्रो डॉ. यतीन्द्र सिंह ने महाराणा प्रताप भवन में क्षत्रिय बालकों को प्रतियोगी परीक्षाओं का निशुल्क प्रशिक्षण देने को कहा। इस अवसर पर मंत्री प्रद्युम्र सिंह तोमर के अलावा जगदीश सिंह तोमर, जयसिंह कुशवाह , केपीसिंह भदौरिया , रमेश भदौरिया आदि ने शमी एवं शस्त्र पूजन कर समारोह शुभारंभ किया। 
इस मौके पर क्षत्रिय महासभा के संभागीय मंत्री रविन्द्र सिंह कुशवाह, जिलाध्यक्ष रघुराज सिंह तोमर, प्रदेश अध्यक्ष बृजपाल सिंह तोमर, विनय चौहान, नरेन्द्र सिंह तोमर, इंजीनियर मोहर सिंह जादौन, नरेन्द्र सिंह धाकरे, प्रेमसिंह भदौरिया, संभागीय अध्यक्ष भारत सिंह भदौरिया, पार्षद बलवीर सिंह तोमर, सोबरन सिंह तोमर , पार्षद जगराम सिंह कुशवाह , अजय सिंह राठौर, सौरभ सिंह जादौन आदि मौजूद रहे। 

2020-02-19aaj