BREAKING!
  • रोशनी टीम हॉफ मैराथन में शामिल होने रवाना
  • योगा खूबसूरत जीवन को जीने का रास्ता दिखाता है: शुभांगी भसीन
  • स्काउट गाइड के बेसिक प्रशिक्षण में हाइक आयोजित की गई
  • हत्या के आरोपी को भागने में मदद करने वाले भाई को पकड़ा
  • गौवंश को दफनाने वाले 06 बदमाशों को पुलिस ने पकडा
  • सिंधिया 21 अक्टूबर को ग्वालियर आऐंगे
  • आईटीएम में इबारत-11 की महफिल 20 को
  • 22 अक्‍टूबर को बैंकों में हड़ताल
  • हिंदुओं का नारीवाद
  • अतिक्रमण हटाने पहुंचे प्रशासन के सामने विधायक मुन्नालाल अडे

Sandhyadesh

आज की खबर

बीमा चिकित्सालय में बिजली संकट से आपरेशन नहीं रूकेंगे

18-Sep-19 124
Sandhyadesh


* स्वयं का सौर उर्जा प्लांट लगाया 
ग्वालियर। कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय ग्वालियर में अब बिजली संकट के चलते मरीजों के आॅपरेशन नहीं रूकेंगे। अब चिकित्सालय में 64.5 किलोमीटर का सौर उर्जा संयंत्र स्थापित कर दिया गया है, जिससे अब चिकित्सालय को उसकी आवश्यकता अनुसार विद्युत आपूर्ति मिलती रहेगी।
ज्ञांतव्य है कि तानसेन रोड लोको स्थित कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय में तानसेन रोड फीडर के कारण आये दिन बिजली कटौती होती थी, जिससे चिकित्सालय की आपरेशन प्रक्रिया सहित महत्वपूर्ण जांच उपकरण तक प्रभावित होते थे। कई बार कटौती का शेडयूल देखकर ही चिकित्सक मरीजों को आपरेशन का समय और तिथि देते थे। जिसके चलते मरीजों को अपने उपचार, आॅपरेशन में अनावश्यक विलंब होता था और मरीज भी चिकित्सकों से नाराज हो जाते थे। 
लेकिन अब कर्मचारी राज्य बीमा अस्पताल में नये अधीक्षक डाॅ. सीएस जायसवाल की ज्वाइनिंग के बाद चिकित्सालय के दिन फिर गये है। चिकित्सालय में नये-नये उपकरण आ गये, वहीं चिकित्सालय की कायापलट हो गई है। बिजली संकट भी यहां एक बड़ा मुददा था, इसके  कारण आॅपरेशन बाधित होते थे। लेकिन डाॅ. जायसवाल की पहल के चलते कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने यहां 64 किलोमीटर से अधिक का सौर उर्जा प्लांट स्थापित कर दिया हैं। इस पर लगभग 26 लाख की लागत आई हैं।
इस प्लांट से अब चिकित्सालय को न केवल आपरेशन के समय व उपचार उपकरणों के लिए भरपूर विद्युत मिलेगी, बल्कि समूचा बीमा अस्पताल बिजली से सराबोर होगा। चिकित्सालय में अब आपरेशन कक्ष, उपचार कक्ष के अलावा चिकित्सालय कक्षों में भी बिजली कटौती से होने वाला अंधकार दूर होगा। 

इनका कहना हैं
सौर उर्जा संयंत्र लगने से अब हमारे यहां आॅपरेशन व अन्य उपचार के उपकरणों का ज्यादा से ज्यादा उपयोग मरीजों के हित में संभव हो सकेगा। 
डाॅ. सी.एस. जायसवाल
अधीक्षक
कर्मचारी राज्य बीमा चिकित्सालय

साभार 
सत्ता सुधार

2019-10-20aaj